पानीपत : दोस्त से सेक्स करने से किया इनकार तो पत्नी को फेंका छत से, पति गिरफ्तार

जांच अधिकारी ने बताया कि वारदात के बाद पहले से दर्ज एफआईआर में कुछ नई धाराएं जोड़ ली गई हैं.

जांच अधिकारी ने बताया कि वारदात के बाद पहले से दर्ज एफआईआर में कुछ नई धाराएं जोड़ ली गई हैं.

जांच अधिकारी ने बताया कि महिला ने दो दिन पहले अपने ससुराल वालों के खिलाफ मारपीट का मामला दर्ज कराया था. अब इस वारदात के बाद महिला के पति को गिरफ्तार कर लिया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 13, 2021, 9:31 PM IST
  • Share this:
सुमित भारद्वाज

पानीपत. बुधवार को घर आए दोस्त के साथ संबंध बनाने के लिए दबाव बना रहा था. इनकार करने पर पति व ससुराल वालों ने मारपीट की. रस्सी से गला घोंटने की कोशिश की और देर रात करीब 12:15 बजे निर्वस्त्र कर छत से नीचे फेंक दिया. ये आरोप अपने ससुराल के लोगों पर सिविल अस्पताल (Civil Hospital) में भर्ती महिला ने लगाए हैं.

इस मामले के जांच अधिकारी (Investigating officer) ने बताया कि महिला ने इस वारदात के दो दिन पहले भी अपने ससुराल वालों के खिलाफ मारपीट का मामला दर्ज कराया था. और अब इस वारदात के बाद महिला के बयान के आधार पर पुराने केस में कुछ और धाराएं जोड़ दी गई हैं. महिला के पति को गिरफ्तार कर लिया गया है. फिलहाल मामले की जांच जारी है.

सिविल अस्पताल में भर्ती महिला ने बताया कि वह दिल्ली की रहनेवाली है. करीब दो साल पहले उसने न्यू हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी के युवक से लव मैरिज की थी. शादी के बाद उन्हें एक लड़का हुआ. महिला ने आरोप लगाया कि उसका पति सट्‌टा खेलने और शराब पीने का आदी है. सट्‌टे में रुपये हारने के बाद वह महिला पर मायके से पैसे लाने का दबाव बनाने लगा. कई बार महिला ने परिजनों से रुपये लाकर दिए भी.
महिला ने कहा कि वह हरबार अपने मायकेवालों से पैसे नहीं मांग सकती. लेकिन उसके पति अक्सर मायके से रुपये लाकर देने का दबाव बनाता था. ऐसा नहीं करने पर वह कहता था कि मेरे दोस्तों से संबंध बनाओ. महिला का आरोप है कि बुधवार की शाम को पति व ससुराल पक्ष के लोगों ने उसके साथ जमकर मारपीट की. कैंची और डंडों से बुरी तरह पीटा और छत ने नीचे फेंक दिया. गंभीर हालत में परिजनों ने उसे सिविल अस्पताल में भर्ती कराया. महिला की शिकायत पर पुलिस ने पति, सास, ससुर व पति की बुआ के खिलाफ दहेज व मारपीट का केस दर्ज कर पति को अरेस्ट कर लिया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज