पानीपत के मित्तल मेगा माल के मसाज पार्लर में चल रहे सैक्स रैकेट का पर्दाफाश, पुलिस ने 12 लोगों को हिरासत में लिया

मसाज पार्लर से हिरासत में ली गई लड़कियों को थाने लेकर जाती पुलिस.
मसाज पार्लर से हिरासत में ली गई लड़कियों को थाने लेकर जाती पुलिस.

पानीपत पुलिस (Panipat Police) ने शहर के मित्तल मेगा माल के मसाज सेंटरों में चल रहे सेक्स रैकेट (Sex Racket) का भंड़ाफोड़ किया है. पुलिस (Police) ने कुल एक दर्जन युवक-युवतियों को हिरासत में लिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 24, 2020, 9:34 PM IST
  • Share this:
पानीपत. पानीपत (Panipat) के मित्तल मेगा माल में उस वक्त हड़कंप मच गया जब पानीपत पुलिस (Police) ने गुप्त सूचना के आधार पर माल के अंदर चल रहे स्पा सेंटरों (Spa Centers) में अचानक छापे मारे. इस छापेमारी में पानीपत पुलिस ने करीब दो दर्जन युवक-युवतियों को हिरासत में लिया है. डीएसपी (DSP) सतीश वत्स ने इस मामले की पुष्टि की है. मामले में पुलिस ने एक दर्जन से अधिक युवक-युवतियों को हिरासत में किया है.

डीएसपी ने बताया की गुप्त सूचना के आधार पर पुलिस ने इस माल में छापेमारी की, पुलिस ने अपने आदमी को बोगस ग्राहक बनाकर स्पा सेंटर भेजा था, जहां स्पा सेंटर में आपत्तिजनक चीजे देखने को मिलीं. डीएसपी ने बताया कि स्पा सेंटर के नाम पर यहां सेक्स रैकेट चलाया जा रहा था इस पर पुलिस ने कार्रवाई करते हुए दर्जनों युवक-युवतियों को हिरासत में लिया है और मामले की गहनता से जांच की जा रही है. वही माल के मैनेजर ने पुलिस की कार्रवाई पर सवाल उठाया है. कहा कि स्पा सेंटर में ऐसा कुछ नहीं चल रहा था क्योंकि हम समय-समय पर मॉनीटरिंग करते रहते हैं.

हरियाणा: पैरोल पर बाहर आए बदमाश का शव फंदे पर लटका मिला, परिजनों को हत्या की आशंका



बता दें कि मित्तल मेगा माल में इस तरह का छापा पहली बार नहीं पड़ा है. इसके पहले भी यहां कई बार छापे पड़ चुके हैं. देह व्यापार का मामला पहले भी सामने आया था. साल 2017 में 20 अगस्त को जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव एवं चीफ ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट (सीजेएम) मोहित अग्रवाल ने मित्तल मेगा मॉल में छापा मारकर वहां चल रहे देह व्यापार का पर्दाफाश किया था. इस छापे में 12 लड़कियों और चार लड़कों को हिरासत में लिया गया था. तब मौके से 5800 रुपये, कंडोम का पैकेट और अन्य संदिग्ध सामान बरामद किया गया.
सीजेएम मोहित अग्रवाल ने बताया था कि गुप्त सूचना के आधार पर मित्तल मेगा के बेसमेंट में चल रहे चार बॉडी मसाज पार्लर में छापेमारी की गई थी, जहां सेक्स रैकेट चल रहा था. उन्होंने बाल किशोर न्याय बोर्ड के सदस्य सुल्तान सिंह खर्ब, बाल कल्याण समिति की सदस्य किरण मलिक, लीगल वालिंटियर सुनीता व सुमन और थाना शहर से एसआइ रेखा की टीम गठित कर मित्तल मेगा माल भेजा था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज