Positive India: हरियाणा पुलिस ने 5 नई इनोवा कोविड अस्पताल को दी, एंबुलेंस के तौर पर होगा इस्तेमाल

पानीपत पुलिस की सराहनीय पहल

पानीपत पुलिस की सराहनीय पहल

Panipat Police: पुलिस को मिली पांच नई इनोवा (Innova Car) गाड़ियां कोरोना मरीजों के लिए एंबुलेंस के तौर पर निशुल्क उपलब्ध करवाई जा रही है. पानीपत में सरकार ने अस्थाई कोविड अस्पताल शुरू किया है, जिसके लिए ये गाड़ियां एंबुलेंस का काम करेंगी.

  • Share this:

पानीपत. पूरे देश में कोहराम मचा रहे कोरोना संक्रमण से जूझने और हराने के लिए हरियाणा की खट्टर सरकार भी कड़ी मेहनत से लगी हुई है. जहां प्रदेश की खट्टर सरकार पानीपत जिले में 500 बेड में से 300 बेड का अस्थाई कोविड अस्पताल तैयार कर चुकी है. वहीं बढ़ते कोरोना केसों के चलते मरीजों को एम्बुलेंस (Ambulance) न मिलने और मिलने पर मनमर्जी के दाम वसूली की समस्या को ध्यान में रखते हुए पानीपत पुलिस (Panipat Police) प्रशासन ने सराहनीय पहल की है. पुलिस प्रशासन ने सरकार की ओर से विभाग को मिली न्यू ब्रांड 5 इनोवा गाड़ियों को एम्बुलेंस के तौर पर इस्तेमाल करने के लिए कोविड अस्पताल के हैंडओवर कर दी है.

डीएसपी सतीश वत्स ने सभी पांचों गाड़ियों की चाबी पीएमओ संजीव ग्रोवर को सौंपते हुए बताया कि इससे पहले भी पांचों गाड़ियां सिविल अस्पताल के लिए एम्बुलेंस के तौर पर चल रही थी. लेकिन अब ये सभी गाड़िया डिपार्टमेंट द्वारा बाल जाटान में बने कोविड अस्पताल को अस्थाई तौर पर एम्बुलेंस के तौर पर इस्तेमाल करने के लिए आज सौंप दी गई है.

मरीजों को घर से लाने, छोड़ने का काम करेंगी ये गाड़ियां

उन्होंने बताया कि गाड़ियों में किसी तरह की कोई मेडिकल सुविधा तो नहीं होगी. ये गाड़िया बस मरीजों को उनके घर से अस्पताल में लाने ले जाने के लिए होंगी. उन्होंने बताया कि अगर किसी मरीज को एम्बुलेंस नहीं मिल रही है तो वो टोल फ्री नंबर पर कॉल करके एम्बुलेंस ले सकता है. सतीश वत्स ने बताया कि ये सभी गाड़ियां कोविड अस्पताल प्रशासन के नियंत्रण मे काम करेंगी. लेकिन इन पर ड्राइवर हमारे रहेंगे. एक गाड़ी पर शिफ्ट वाइज 2 ड्राइवर रहेंगे.
पीएमओ ने पुलिस का आभार जताया

वही पीएमओ संजीव ग्रोवर ने पुलिस के इस कदम का आभार जताया और उन्होंने कहा की हमे इन गाड़ियों का बहुत फायदा मिलेगा. अब हम मरीजों को किसी भी तरह से एम्बुलेंस की कमी महसूस नहीं होने देंगे. आपको बता दें कि डीएसपी सतीश वत्स ने ये भी आश्वाशन दिया है अगर स्वास्थ्य विभाग द्वारा और गाड़ियों की डिमांड भी अगर भेजी जाती है तो हम अन्य गाड़ियों की भी व्यवस्था करवाने का काम करेंगे. वही उन्होंने बताया कि जब एम्बुलेंस की डिमांड का संकट कम हो जाएगा तो फिर से ये गाड़ियां पुलिस विभाग के लिए काम करेंगी

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज