होम /न्यूज /हरियाणा /

दिल्ली रैली से पंजाब लौट रहे लोगों को पानीपत टोल पर रोका तो हंगामा, जानें पूरा मामला

दिल्ली रैली से पंजाब लौट रहे लोगों को पानीपत टोल पर रोका तो हंगामा, जानें पूरा मामला

पानीपत टोल प्लाजा टोल की पर्ची को लेकर जमकर हंगामा हुआ.

पानीपत टोल प्लाजा टोल की पर्ची को लेकर जमकर हंगामा हुआ.

Panipat news: पानीपत टोल प्लाजा टोल की पर्ची को लेकर जमकर हंगामा हुआ. जब पंजाब के रहने वाले सिख दिल्ली में हुई सिख बंदी छिंगा की रिहाई को लेकर हुई रैली से वापिस पंजाब लौट रहे थे तभी उन्हें रोके जाने पर विरोध शुरू हो गया. आरोप है कि जैसे ही वह पानीपत टोल प्लाजा पर पहुंचे तो टोल कर्मचारियों ने टोल के पैसे मांगे. इसके बाद पानीपत टोल प्लाजा को बंद कर हंगामा शुरू हो गया.

अधिक पढ़ें ...
सुमित भारद्वाज
पानीपत. पानीपत टोल प्लाजा टोल की पर्ची को लेकर जमकर हंगामा हुआ. जब पंजाब के रहने वाले सिख दिल्ली में हुई सिख बंदी छिंगा की रिहाई को लेकर हुई रैली से वापिस पंजाब लौट रहे थे तभी उन्हें रोके जाने पर विरोध शुरू हो गया. आरोप है कि जैसे ही वह पानीपत टोल प्लाजा पर पहुंचे तो टोल कर्मचारियों ने टोल के पैसे मांगे. टोल के कर्मचारियों ने उनकी गाड़ी रोक दी जिसके बाद बस और गाड़ियों में मौजूद पंजाब के सभी सिखों ने पानीपत टोल प्लाजा को बंद कर हंगामा कर दिया.पानीपत टोल प्लाजा को बंद कर हंगामा किए जाने के बाद वहां लंबा जाम लग गया. यहां जमकर नारेबाजी की गई. टोल प्लाजा कर्मचारियों को लेकर भारी आक्रोश देखा गया. इस दौरान टोल प्लाजा मैनेजर से माफी मांगे जाने की भी मांग की गई. अकाली दल अमृतसर के जिला प्रधान जसवंत सिंह ने टोल के कर्मचारियों पर उनके साथ अभद्रता करने का आरोप लगाया है. जसवंत सिंह ने बताया कि जब देर रात वह पंजाब से दिल्ली जा रहे थे तो पानीपत टोल प्लाजा पर उन्हें रोक दिया गया. उनके साथ अभद्रता की गई. उनके साथ गुंडागर्दी की जा रही है. इसको लेकर उनके साथियों में भारी रोष रहा और इसी को लेकर प्रदर्शन किया गया.

दिल्ली से लौट रहे थे, तभी रोकने पर बिगड़ गई बात
इस घटना को लेकर विरोध कर रहे जसवंत ने बताया कि वह अपने किसी निजी कम से दिल्ली नहीं गए थे, वल्कि वह सिखों की रिहाई के लिए दिल्ली में आयोजित रैली में शामिल होने के लिए गए थे. टोल कर्मचारियों को पता होने के बावजूद भी उन्होंने उनके साथ दुर्व्यवहार किया है.

Tags: Haryana news, Panipat News

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर