पानीपत: कोरोना लॉकडाउन के बाद भी नहीं लग सकी शराब की अवैध तस्करी पर लगाम

लॉकडाउन में सबकुछ बंद, लेकिन बदस्तूर जारी है अवैध शराब खेप

लॉकडाउन में सबकुछ बंद, लेकिन बदस्तूर जारी है अवैध शराब खेप

लॉकडाउन में जरूरी चीजों की सप्लाई भले ही बामुश्किल हो पा रही है, लेकिन अवैध शराब की तस्करी बदस्तूर जारी है. पानीपत पुलिस ने ऐसे ही  तस्करों को गिरफ्तार किया है जो पुलिस की आंखों में धूल झोंक कर शराब तस्करी कर रहे थे.

  • Share this:

पानीपत. लोग कोरोना संक्रमण के फैलाव में आकर मरे जा रहे हैं. सरकार की ओर से लॉकडाउन ( lock down ) लगाकर सख्ती कर दी गई है, लेकिन इसके बाद भी शराब की तस्करी जारी है. लॉकडाउन में जरूरी चीजों की सप्लाई भले ही बामुश्किल हो पा रही है, लेकिन अवैध शराब की तस्करी बदस्तूर जारी है. पानीपत पुलिस ने ऐसे ही  तस्करों को गिरफ्तार किया है जो पुलिस की आंखों में धूल झोंक कर शराब तस्करी कर रहे थे. तस्कर चोरी-छिपे शराब बेच रहे हैं.  डीएसपी ने कहा ऐसे लोगो के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

देश व प्रदेश में जहां कोरोना काल में खाने -पीने, दवा व अन्य सामान की कालाबाजारी से लोग अपनी जेब भर रहे हैं,  वहीं सरकार द्वारा लॉकडाउन में अत्यंत आवश्यक सामान के अलावा सभी दुकानों स्टोरों, होटलों के साथ बाजारों को भी बंद किया है. सरकार के शराब के ठेकों के बंद करने के आदेश के बाद भी शराब ठेके संचालकों द्वारा शराब की बिक्री धड़ल्ले से जारी है.

पानीपत प्रशाशन का दावा है कि पुलिस मुस्तैद है और किसी को भी ठेके खोलने की इजाजत नहीं. इसके बाद भी शहर के हर चौक चौराहों पर शराब खरीदने वाले खुले आम शराब के ठेकों पर लाइन लगाए खड़े हैं. ऐसे में लोगो में भी नाराजगी है. पानीपत में शराब की अवैध विक्री की वायरल होती तस्वीरों ने पानीपत प्रशासन के दावों की पोल खोल कर रख दी है. वहीं डीएसपी सतीश वत्स ने कहा कि स्थानीय पुलिस द्वारा लगातार लोकडाउन में सख्ती बरती जा रही है. किसी भी ठेके से शराब नहीं बेचने दी जाएगी. उन्होंने कहा अगर कोई ऐसा करता पाया जायेगा तो उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज