घर में घुस कर महिला को मारी गोली, किसी ने मदद नहीं की तो 350 मीटर पैदल चली, फिर ऑटो में अस्पताल पहुंची

घर में घुसकर महिला को मारी गोली
घर में घुसकर महिला को मारी गोली

किसी ने मदद (Help) नहीं की तो महिला घर का ताला लगाकर खुद ही करीब 20 मिनट तक 350 मीटर पैदल चलकर बस स्टैंड (Bus Stand) पहुंची.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 30, 2020, 7:42 PM IST
  • Share this:
पानीपत. हरियाणा के पानीपत (Panipat) जिले में एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है. जिले के बपौली में दो हमलावरों ने घर में घुसकर एक महिला को गोली मार दी. एक गोली महिला के सीने व एक गोली कमर में लगी. वारदात के बाद हमलावर फरार हो गए. 35 वर्षीय महिला लहूलुहान हालत में नीचे उतरी और गली में शोर मचाकर गोली मारे जाने की बात बताई. उसने पड़ोसियों से बस अड्डे तक छोड़ने के लिए मदद मांगी लेकिन किसी ने उसकी मदद (Help) नहीं की.

जब किसी ने उसकी मदद नहीं की तो घर का ताला लगाकर खुद ही करीब 20 मिनट तक 350 मीटर पैदल चलकर बस स्टैंड पहुंची. वहां से ऑटो किराये पर ले 12 किलोमीटर पानीपत सिविल अस्पताल पहुंची. वहां उसे रोहतक रेफर कर दिया. परिजनों ने उसे निजी अस्पताल में भर्ती करा दिया जहां उसकी हालत नाजुक बनी हुई है.

पति पर हमला करवाने का आरोप



पानीपत की न्यू हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी निवासी महिला के भाई संदीप  ने बताया कि उसकी बहन रंजना की शादी 15 साल पहले बापौली निवासी राजकुमार पुत्र मदनलाल से हुई थी. 8 साल से बहन व उसके पति के बीच मनमुटाव चल रहा है. रंजना ने कोर्ट में पति पर खर्च व तलाक का केस डाल रखा है. पति ने मारपीट कर उसे घर से निकाल दिया था.


आरोपी फरार

कोर्ट के आदेश पर रंजना करीब 3 साल से ससुराल में पहली मंजिल पर बने कमरे में रह रही थी. राजकुमार मोबाइल रिचार्ज का काम करता था. इसके बाद वह सोनीपत में तारानगर में किराए पर रहने लगा. संदीप का आरोप है कि राजकुमार ने दूसरी शादी कर ली और वह उसी के साथ रहता है. 4 माह से माता-पिता भी सोनीपत में उसके साथ रह रहे है. बापौली एसएचओ ने बताया कि सोनीपत स्थित राजकुमार के घर पर पहुंची. राजकुमार घर से फरार है. रंजना की 13 वर्षीय बेटी करनाल में पढ़ती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज