कुरुक्षेत्र में आरोपी ने कमरे में लगा रखे थे सारे उपकरण, छापता था 200 और 500 के नकली नोट

पुलिस ने आरोपी की निशानदेही पर नकली नोट छापने के कई उपकरणों को बरामद किया है.
पुलिस ने आरोपी की निशानदेही पर नकली नोट छापने के कई उपकरणों को बरामद किया है.

कुरुक्षेत्र पुलिस (Kurukshetra Police) की अपराध अन्वेषण शाखा-1 ने नकली नोट (Fake Currency) छापने के आरोपी मनोज कुमार की निशानदेही पर नकली नोट छापने की सामग्री को बरामद किया है. इसमें कलर प्रिटर, ट्रिमर, स्केल कटर, और 42 हजार के 500 के नकली नोट मिले हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 7, 2020, 7:01 PM IST
  • Share this:
कुरुक्षेत्र. कुरुक्षेत्र पुलिस (Kurukshetra Police) की अपराध अन्वेषण शाखा-1 ने नकली नोट (Fake Currency) छापने के आरोपी मनोज कुमार पुत्र रामदिया वासी कैलरम कैथल (Kaithal) की निशानदेही पर नोट छापने में प्रयोग में लाए जाे वाले उपकरणों को बरामद किया है. बता दें कि मनोज को कुरुक्षेत्र पुलिस ने 25 हजार रुपये के नकली नोटों के साथ गिरफ्तार किया था.

पुलिस अधीक्षक कुरुक्षेत्र श्री राजेश दुग्गल ने बताया कि पुलिस ने आरोपी को माननीय अदालत में पेश करके दो दिन की पुलिस रिमांड पर लिया था. पुलिस रिमांड के दौरान आरोपी की निशानदेही पर कलर प्रिंटर, ट्रिमर, स्केल कटर, और 42 हजार 500 के नकली नोट नोट बरामद करने में पुलिस ने सफलता हासिल की है. दुग्गल ने बताया कि अपराध अन्वेषण शाखा-1 के प्रभारी निरीक्षक प्रतीक कुमार के नेतृत्व में उनकी टीम गश्त में उमरी चौक के नजदीक मौजूद थी. पुलिस टीम को गुप्त सूचना मिली थी कि मनोज कुमार पुत्र रामदीया वासी गांव कैलरम कैथल जो कि करीब 3 /4 महीने से दिल्ली में एक कमरा किराये पर लेकर रह रहा है. मनोज कुमार अपने किराये के में नकली करंसी नोट छापता था.

सोनीपत: किसानों का आरोप- मंडी में बहुत कम दाम में बिक रही है फसल, नहीं मिल रहीं सुविधाएं



इन नोटों को को पजांब और हरियाणा में खपाया जाता था. मनोज कुमार काफी मात्रा मे नकली करंसी नोट अपने साथ लेकर दिल्ली से कुरुक्षेत्र के लिए आ रहा था. तभी पुलिस टीम ने सूचना मिलने पर घेराबंदी की. कुछ समय पश्चात पैराकिट पिपली के नजदीक एक व्यक्ति आया, जिसने काले रंग की टी शर्ट और हरे रंग का लोअर पहना था. पुलिस ने सूचना के आधार पर व्यक्ति को काबू कर लिया और उसेस पूछताछ की तो उसने अपना नाम पता मनोज कुमार पुत्र रामदीया वासी गांव कैलरम कैथल बताया.
पुलिस द्वारा उसकी तलाशी लेने पर उसके कब्ज़ा से 500/500 के 50 नकली करंसी नोट बरामद हुए, जिनको चेक करने पर वह नोट नकली पाए गये. इसके बाद आरोपी के विरुद्ध थाना सदर थानेसर में मामला दर्ज करके दिनांक 05 अक्टूबर 2020 को आरोपी को गिरफ्तार करके माननीय अदालत में पेश किया गया. आरोपी को माननीय अदालत के आदेश पर दो दिन की पुलिस रिमांड पर लेकर जांच शुरू की गई. जांच के दौरान आरोपी ने बताया की उसका एक साथी मोहित सोनीपत जेल में बंद है. आरोपी ने रिमांड अवधि के दौरान पुलिस को कलर प्रिंटर, ट्रिमर, स्केल कटर, और 42 हजार 500 रुपये के नकली करंसी नोट जिनमें 500 रुपये के 37 नोट जो सभी नोट और एक सीरियल नंबर बरामद किया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज