पंजाब में कर्ज न चुका पाने से परेशान पांच किसानों ने की खुदकुशी

इन किसानों पर सरकारी और गैर सरकारी बैंकों का लाखों रुपये का कर्ज हो गया था.

News18Hindi
Updated: May 16, 2018, 9:01 AM IST
पंजाब में कर्ज न चुका पाने से परेशान पांच किसानों ने की खुदकुशी
प्रतीकात्मक तस्वीर
News18Hindi
Updated: May 16, 2018, 9:01 AM IST
पंजाब के भठिंडा में मंगलवार को कर्ज के बोझ के चलते पांच किसानों ने खुदकुशी कर ली. बताया जाता है कि  इन किसानों पर सरकारी और गैर सरकारी बैंकों का लाखों रुपये का कर्ज हो गया था. पुलिस सभी मामले की जांच में जुट गई है.

जानकारी के अनुसार सिधाना गांव के रहने वाले परमजीत सिंह ने बैंक से दो लाख रुपये का कर्ज ले रखा था. पिछले काफी समय से कर्ज न चुका पाने के कारण वह काफी परेशान रहता था. कर्ज के बोझ के कारण परमजीत ने फांसी लगाकर जान दे दी. दूसरे किसान बुध सिंह ने भी बैंक से दो लाख का कर्ज ले रखा था. कर्ज न चुका पाने के कारण उसने खेत में जहर खाकर जान दे दी. तीसरा किसान अमृतपाल है. अमृतपाल, दयालपुरा मिर्जा गांव का रहने वाला है. बताया जाता है कि किसान ने पांच लाख का कर्ज लिया हुआ था. यही कारण है कि किसान ने खेत में जहर खाकर की खुदकुशी कर ली. भठिंडा के रामपुरा फूल के गांव ढिंगर के किसान जगराज सिंह (50) साल ने अपने खेत जाकर जहरीली दवा पीकर खुदकुशी कर ली. मृतक के ऊपर तीन लाख कर्ज था.

पांचवे मामले में संगरुर के गांव गुरने के एक किसान ने कर्ज के बोझ से से परेशान हो कर रेलगाड़ी के नीचे आकर आत्महत्या कर ली है. गांव गुरने कलां के किसान रामफल (55) के सिर पर सरकारी व गैरसरकारी बैंकों का लाखों रुपए का कर्ज था. जबकि जमीन केवल डेढ़ एकड़ ही है. दो बेटे बेरोजगार होने और परिवार पर लाखों रुपए का कर्ज होने के कारण रामफल ने परेशान होकर रेलगाड़ी के नीचे आकर आत्महत्या कर ली.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर