बीजेपी सांसद ने विधायक का भाषण रुकवाया, बोले- यहां किसी की चापलूसी से नहीं हुए काम

राव इंद्रजीत सिंह ने कहा की वो खुद बेवकूफ है जो लोगों को पहचान नहीं पाते, जिन्हें टिकट दिलाते हैं, वहीं उनके साथ दागेबाजी कर जाते हैं.

Pawan Kumar | News18 Haryana
Updated: July 29, 2019, 8:27 AM IST
बीजेपी सांसद ने विधायक का भाषण रुकवाया, बोले- यहां किसी की चापलूसी से नहीं हुए काम
राव इंद्रजीत सिंह ने रुकवाया भाषण
Pawan Kumar
Pawan Kumar | News18 Haryana
Updated: July 29, 2019, 8:27 AM IST
मुख्यमंत्री मनोहर लाल के खिलाफ हमेशा तलख़ तेवर रखने वाले केंद्रीय राज्यमंत्री राव इंद्रजीत सिंह की रैली में कोसली विधायक बिक्रम ठेकेदार को मुख्यमंत्री की तारीफ करना महंगा पड़ गया. वो ऐसे की बिक्रम ठेकेदार के सम्बोधन के दौरान भीड़ ने उनकी हुटिंग करनी शुरू कर दी. लेकिन बिक्रम ठेकेदार हुटिंग के बावजूद चुप नहीं हुये जिसके बाद माइक बंद हुआ तो बिक्रम ठेकेदार वापस अपनी सीट पर बैठ गए और फिर केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत सिंह ने भी अपने सम्बोधन में ये कह दिया की जिसको उन्होंने टिकट दिलाई वो दगेबाज निकले. बता दे की बिक्रम ठेकेदार को राव इंद्रजीत ने टिकट दिलाकर जिताया था.

बता दें कि केंदीय राज्य मन्त्री राव इंद्रजीत सिंह लोकसभा चुनाव जीत के बाद लगातार धन्यवादी दौरे कर रहे है और रविवार को उन्होंने कोसली हल्के के गांव डहीना में सम्मान रैली की जिसमें राव इंद्रजीत के आशीर्वाद से विधायक बने  राज्यमंत्री डॉ बनवारी लाल, पटौदी विधायक बिमला चौधरी और कोसली विधायक बिक्रम ठेकेदार मौजूद थे. रैली में राज्यमंत्री डॉ बनवारी लाल ने तो सम्बोधन नहीं दिया लेकिन बिक्रम ठेकेदार ने दिये भाषण में मुख्यमंत्री की खूब तारीफ की गई और उसका नतीजा ते हुआ कि जनता ने हूटिंग शुरू कर दी.

विधायक का माइक करवाया बंद

विधायक बिक्रम बोलते रहे और हूटिंग होती रही. इसी दौरान मंच से उनका कुर्ता खींचकर कहा गया कि बैठ जाये लेकिन विधायक नहीं रुके और आखिर में माइक बंद किया तो विधायक वापस अपनी सीट वापिस बैठे गए.  विधायक की हूटिंग के बाद बाकी रही कसर राव इंद्रजीत सिंह ने अपने भाषण में निकाल दी.

बोले गलती मेरी, मैं लोगों को नहीं पहचान पाता

राव इंद्रजीत सिंह ने कहा की वो खुद बेवकूफ है जो लोगों को पहचान नहीं पाते, जिन्हें टिकट दिलाते हैं, वहीं उनके साथ दागेबाजी कर जाते हैं. राव इंद्रजीत सिंह ने कहा की उन्होने कोसली से कांग्रेस की टिकट पर लड़ रहे अपने छोटे भाई को हराकर बिक्रम ठेकेदार को जिताया था. उन्होने कहा की जो अबकी बार काम हुए है वो उनके रुतबे और हैसीयत की वजह से हुए हैं. उन्होने किसी के सामने चापलूसी कर किसी दूसरे नेताओं की तरह झोली नहीं फैलाई.

राव इंद्रजीत सिंह ने दिलाई थी टिकट
Loading...

बता दें की दक्षिण हरियाणा की कुछ सीटों पर पिछले विधानसभा चुनाव में राव इंद्रजीत के वजह से विधायकों को टिकट मिली थी और वो विधायक जब केंद्रीय मंत्री की बजाए मुख्यमंत्री की तारीफ ज्यादा करते है तो वो राव की नजर में बागी जैसे नजर आते है. शायद ये वजह है की विधायक बिक्रम ठेकेदार की सीएम की तारीफ करने पर हुटिंग हुई और तभी राव इंद्रजीत सिंह ने ऐसे विधायकों को दागेबाज बता दिया.

ये भी पढ़ें:- IT के 10 अफसरों ने भव्य बिश्नोई से 89 घंटे में पूछे 146 सवाल 

ये भी पढ़ें:- 45 गाड़ियों को चोरी कर बेच चुके अपराधियों को पुलिस ने दबोचा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रेवाड़ी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 29, 2019, 8:23 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...