राजस्थान: दलित परिवार को मंदिर में पूजा करने से रोका, प्रसाद गौशाला भिजवाया

समझौते के बाद भंडारे के लिए प्रसाद बनाया भी गया. लेकिन दलित परिवार ने जैसे ही मंदिर में प्रसाद चढ़ाया तो दबंग लोगों ने हंगामा कर दिया और बना बनाया प्रसाद ट्रैक्टर में भरकर गोशाला भिजवा दिया.

News18 Haryana
Updated: June 17, 2019, 6:13 PM IST
राजस्थान: दलित परिवार को मंदिर में पूजा करने से रोका, प्रसाद गौशाला भिजवाया
लोगों की समझाते पुलिसकर्मी
News18 Haryana
Updated: June 17, 2019, 6:13 PM IST
जात-पात की जड़ें आज भी हमारे समाज खोखला कर रही हैं. हमारे सभ्य समाज पर कालिख पोती जा रही हैं. रेवाड़ी के नैनसुखपुरा गांव से ऐसा मामला सामना आया, जो हमें सोचने पर मजबूर कर रहा है कि 21वीं सदी में पहुंचकर भी हमारी सोच रूढ़िवादी क्यों है? क्यों हम जात-पात के आधार पर इंसानों को बांट रहे हैं. बता दें कि रेवाड़ी में दलित परिवार को मंदिर में भंडारा करने को लेकर विवाद हो गया.

समझौते के बाद भंडारे के लिए प्रसाद बनाया भी गया. लेकिन दलित परिवार ने जैसे ही मंदिर में प्रसाद चढ़ाया तो दबंग लोगों ने हंगामा कर दिया और बना बनाया प्रसाद ट्रैक्टर में भरकर गौशाला भिजवा दिया. इस पूरे मामले के दौरान बड़ी संख्या में पुलिस बल गांव में मौजूद रहा.

रेवाड़ी ने नैन सुखपुरा गांव का मामला

बता दें की ये पूरा मामला रेवाड़ी के गांव नैन सुखपुरा का है, जहां विजय पाल नाम ने बाबा भैनिया से मन्नत मांगी थी की उसकी बेटी ठीक हो जायेगी तो वो भंडारा करेगा. लेकिन विजयपाल के भंडारा करने पर गांव के ही कुछ दबंग लोगों को ऐतराज था.

फरियाद लेकर पुलिस के पास पहुंचा पीड़ित परिवार

लिहाजा बाल्मीकि परिवार अपनी फरियाद लेकर एक दिन पहले जाटूसाना पुलिस थाने पहुंचा. जहां पंचायत करके दोनों पक्षों में सहमति बनी कि आपस में पैसे मिलाकर भंडारा किया जायेगा. जिसके बाद आज रविवार को सुबह सुरक्षा के लिहाज से गांव में पुलिस बल तैनात रहा और भंडारा बनाया गया.

मंदिर में प्रसाद चढ़ाने से रोका
Loading...

लेकिन जैसे ही बाल्मीकि परिवार की महिलाएं प्रसाद चढ़ाने के लिए मंदिर में चढ़ीं तो दबंग लोगों ने रोक दिया. मौके पर मौजूद एसएचओ ने प्रसाद महिलाओं को मंदिर में चढ़ाने दिया. जिसके बाद दबंग लोगों ने हंगामा शुरू कर दिया.

ये भी पढ़ें-आज मरीजों के लिए मुसीबत की घड़ी, मरीज भगवान भरोसे 

खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
First published: June 17, 2019, 5:39 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...