• Home
  • »
  • News
  • »
  • haryana
  • »
  • 15000 फुट ऊंचे पहाड़ पर चढ़ने वाले दिव्यांग जवान से इम्प्रेस हुए PM नरेंद्र मोदी, हौसले को किया सलाम

15000 फुट ऊंचे पहाड़ पर चढ़ने वाले दिव्यांग जवान से इम्प्रेस हुए PM नरेंद्र मोदी, हौसले को किया सलाम

पीएम मोदी ने मन की बात में रेवाड़ी के दिव्यांग अजय कुमार यादव के हौसले को सलाम किया, उसके बाद से अजय कुमार चर्चा में आ गये हैं.

पीएम मोदी ने मन की बात में रेवाड़ी के दिव्यांग अजय कुमार यादव के हौसले को सलाम किया, उसके बाद से अजय कुमार चर्चा में आ गये हैं.

PM Salutes the Spirit of Divyangjan: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रेडियो कार्यक्रम 'मन की बात' में कहा कि इन दिव्यांगजनों के हौसले को सलाम करता हूं. इन सभी को देखकर यह कहा जा सकता है कि भविष्य में इन्होंने जो भी लक्ष्य रखा है, उसे यह अवश्य ही हासिल करेंगे.

  • Share this:

रेवाड़ी. माइनस डिग्री के तापमान वाले सियाचिन ग्लेशियर की 15 हजार 632 फुट ऊंची चोटी को फतह करने वाले रेवाड़ी के करोली निवासी हवलदार अजय कुमार यादव और उनके साथियों के हौसले को खुद देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सैल्यूट किया है. PM मोदी ने आज प्रसारित उनके साप्ताहिक रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ कार्यक्रम में अजय कुमार की हिम्मत का जिक्र किया और उन्हें सलाम किया है.

वहीं कोसली विधायक लक्ष्मण सिंह यादव ने उनके गांव पहुंचकर हवलदार अजय कुमार व उसके साथी चार सदस्यों का सम्मान किया है. विधायक लक्ष्मण ने कहा कि ‘कौन कहता है कि आसमां में सुराख नहीं हो सकता, एक पत्थर तो तबियत से उछालो यारों.’ यह कहावत क्षेत्र के गांव कारोली निवासी हवलदार अजय कुमार यादव एवं उनके साथियों ने चरितार्थ करके दिखाई है.

दिव्यांगता अभिशाप नहीं

दिव्यांगता (Disability) को अभिशाप समझने वाले लोगों के लिए ये सभी पर्वतारोही (Mountaineer) प्रेरणास्त्रोत हैं. जिन्होंने सियाचिन ग्लेशियर फतह कर विश्व कीर्तिमान स्थापित किया है. सियाचिन ग्लेशियर की सबसे ऊंची चोटी को फतह करने वाले इस दल में लद्दाख के लोबजंग चोसवाल, जम्मू कश्मीर के इरफान अहमद वीर, उत्तराखंड के अक्षत रावत और कारोली के हवलदार दिव्यांग अजय कुमार सहित आठ लोग शामिल थे. जिन्होंने माइनस डिग्री के तापमान वाले ग्लेशियर की 15632 फुट ऊंची चोटी को फतह करने में पांच दिन तथा उतरने में तीन दिन का समय लगाया. इनमें से चार लोग ही आज यहां पहुंच पाये, जिनका ग्रामीणों ने जोरदार स्वागत किया है. उन्हें खुली जीप में बैठाकर गाजे-बाजे के साथ समारोह स्थल तक ले जाया गया. यहां लोई व स्मृति चिह्न के साथ-साथ आसपास के ग्रामीणों ने फूलमालाओं से लादकर अजय कुमार का जोरदार अभिनंदन किया.

‘मन की बात’ में क्या बोले मोदी

– देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज मन की बात कार्यक्रम में इन दिव्यांगजनों के हौसले को सलाम किया है.

– इन सभी के हौसलों को देखकर यह कहा जा सकता है कि भविष्य में जो भी इन्होंने लक्ष्य रखा है, उसे ये अवश्य ही हासिल करेंगे. उन्हें जहां भी उनकी व सरकार के सहयोग की आवश्यकता होगी, वह अवश्य सहयोग के लिए तैयार रहेंगे.

-खिलाड़ी नशे की लत को छोडक़र मैदान की लत से जुड़ेंगे तो सफलता अवश्य हासिल करेगी. परमात्मा एक दरवाजे बंद करता है तो उसके चार रास्ते खोलता है. हिम्मत और साहस रखने वालों को सफल होने से कोई नहीं रोक सकता है.

-इन सभी दिव्यांगों ने अपनी दिव्यांगता को अपनी ताकत बनाया तथा विश्व कीर्तिमान स्थापित कर अपने क्षेत्र, गांव, जिले व देश का नाम रोशन किया है.

स्टेडियम बनवाने ग्रामीणों की मांग

-पीए के इस कार्यक्रम को बड़ी संख्या में एकत्र ग्रामीणों ने भी सुना. इस दौरान कारोली गांव के ग्रामीणों ने कोसली विधायक के समक्ष स्टेडियम बनवाने की मांग रखी. जिस पर उन्होंने आश्वासन दिया कि जल्द ही उनकी इस मांग को पूरा कराया जाएगा.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज