रेवाड़ी गैंगरेप: पीड़िता की मां ने लौटाया 2 लाख का चेक, कहा- न्याय चाहिए, कीमत नहीं

पीड़िता की मां ने कहा, "हमें इस चेक की जरूरत नहीं है. क्या यह कीमत बेटी की इज्जत के लिए रखी जा रही है? हमें बस न्याय चाहिए."

News18 Haryana
Updated: September 16, 2018, 8:15 PM IST
रेवाड़ी गैंगरेप: पीड़िता की मां ने लौटाया 2 लाख का चेक, कहा- न्याय चाहिए, कीमत नहीं
रेवाड़ी गैंगरेप केस में पीड़िता की मां ने लौटाया सरकारी चेक (प्रतिकात्म फोटो)
News18 Haryana
Updated: September 16, 2018, 8:15 PM IST
हरियाणा के महेंद्रगढ़ जिले में युवती से गैंगरेप  के मामले में वांछित सैन्यकर्मी सहित तीन आरोपियों को पकड़ने के लिए पुलिस ने कई स्थानों पर रविवार को छापेमार कार्रवाई की. मामले की जांच में शामिल एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि हरियाणा, राजस्थान, दिल्ली और कई अन्य राज्यों में कई स्थानों पर छापे मारे गये. इस मामले में अरोपियों की जल्द गिरफ्तारी की मांग के साथ पीड़िता की मां ने सरकार से मिला 2 लाख रुपए का चेक वापस करने का फैसला लिया है.

पीड़िता की मां ने अपने गांव में पत्रकारों से कहा, ‘‘आरोपियों को फांसी पर लटका देना चाहिए." उन्होंने कहा कि परिवार ने जिला प्रशासन की तरफ से मिले 2 लाख रुपये के चेक को वापस करने का निर्णय लिया है.

रेवाड़ी गैंगरेप: डॉक्‍टर सहित दो गिरफ्तार, मुख्य आरोपी पकड़ से बाहर

उन्होंने कहा, "हमें इस चेक की जरूरत नहीं है. क्या यह कीमत बेटी की इज्जत के लिए रखी जा रही है? हमें बस न्याय चाहिए. हमने कानून के लंबे हाथ के बारे में सुना है लेकिन पुलिस क्या कर रही है? आरोपियों को अभी तक पकड़ा नहीं गया है.’’

बेरोजगारी और झुंझलाहट के चलते रेप करते हैं लड़केः रेवाड़ी केस पर BJP विधायक

वहीं पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि आरोपियों को पकड़ने के लिए कई टीमों का गठन किया गया है और उम्मीद है कि आरोपी जल्द ही गिरफ्त में आ जायेंगे. पुलिस सूत्रों ने बताया कि मामले के संबंध में पूछताछ के लिए कुछ लोगों को हिरासत में लिया गया है.  हरियाणा पुलिस ने नूह की पुलिस अधीक्षक नाज़नीन भसीन की अगुवाई में विशेष जांच दल का गठन किया है और आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए सूचना देने वाले को एक लाख रुपये का ईनाम देने की घोषणा की है.

रेवाड़ी गैंगरेप केस: पुलिस ने तीन आरोपियों के फोटो किए जारी
Loading...
पुलिस ने शनिवार को आरोपियों के नाम और फोटोग्राफ जारी किये थे. उनकी पहचान सेना के जवान पंकज और मनीष तथा नीशू के रूप में की गयी है. दक्षिण पश्चिमी कमान के प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल चेरिश मॉथसन ने शनिवार को जयपुर में कहा था कि वह जांच में पुलिस की मदद करेंगे.
(एजेंसी इनपुट के साथ)

रेवाड़ी गैंगरेप: एसपी राजेश दुग्‍गल का किया तबादला, राहुल शर्मा करेंगे जांच
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर