Home /News /haryana /

रोहतक: 7 घंटे के ड्रामे के बाद किसानों ने बंधक BJP नेताओं को छोड़ा, मनीष ग्रोवर के हाथ जोड़ने पर सुलझा विवाद

रोहतक: 7 घंटे के ड्रामे के बाद किसानों ने बंधक BJP नेताओं को छोड़ा, मनीष ग्रोवर के हाथ जोड़ने पर सुलझा विवाद

रोहतक के किलोई गांव में किसानों ने भाजपा नेताओं को एक शिवमंदिर के अंदर बंधक बना लिया है.

रोहतक के किलोई गांव में किसानों ने भाजपा नेताओं को एक शिवमंदिर के अंदर बंधक बना लिया है.

Kisan Andolan News: रोहतक के किलोई गांव के शिव मंदिर में भाजपा नेताओं को बंधक बनाने वाले किसानाें ने मंदिर को चारों ओर से घेर लिया था. मंदिर से बाहर जाने वाले गांव के हर रास्ते पर अवरोधक लगा दिए थे. प्रदर्शनकारी किसानों का कहना था कि मंदिर के अंदर बंद भाजपा के हर नेता को यहां के लोगों से माफी मांगनी होगी. साथ ही इन नेताओं को यह वादा करना होगा कि वह फिर से जिले के किसी भी गांव में नहीं घुसेंगे. इसके बाद ही वे नेताओं को यहां से जाने देंगे, नहीं तो अंदर ही बंधक बने रहेंगे. हालांकि बाद में विवाद सुलट गया.

अधिक पढ़ें ...

    दीपक भारद्वाज

    रोहतक. हरियाणा के रोहतक में आखिरकार 6 घंटे बाद किलोई गांव के शिवमंदिर (Shiv Mandir Kiloi Ganv) का विवाद सुलझ गया है. पूर्व सहकारिता राज्यमंत्री मनीष ग्रोवर (Manish Grover) ने हाथ जोड़कर माफी मांगी. इसके बाद ग्रामीण और किसान वापस अपने घरों को लौट गए. बाद में ग्रोवर बोले, माफी नहीं मांगी, सिर्फ हाथ जोड़ राम राम की है. सुबह मंदिर में राजनैतिक कार्यक्रम करने पर ग्रामीणों व किसानों ने किया था विरोध. 7 घंटे तक मनीष ग्रोवर व भाजपा नेताओं को मंदिर में बंधक बनाए रखा. 3 जिलों की पुलिस ने संभाली सुरक्षा की कमान थी.

    ये सभी नेता प्रधानमंत्री के केदारनाथ में आयोजित कार्यक्रम को लाइव (PM Live program from Kedarnath) देखने के लिए पहुंचे थे. तीन कृषि कानूनों के विरोध कर रहे किसानों ने इस घटना को अंजाम दिया. किसानों ने मंदिर के बाहर खड़ी नेताओं की गाड़ियों की हवा निकाल दी. घटना को देखते हुए भारी संख्या में पुलिस बल मौके पर पहुंच गया है.

    किलोई प्राचीन शिवमंदिर में हालात तनावपूर्ण हो जाने के बाद भाजपा नेता एवं पूर्व सहकारिता राज्य मंत्री मनीष ग्रोवर को मंदिर से निकालने के लिए सोनीपत से भी पुलिस पहुंच गई है. रोहतक और सोनीपत के एसपी भी मौके पर मौजूद हैं. SP झज्जर वसीम अकरम भी फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए हैं. मंदिर के आसपास भारी पुलिस फोर्स तैनात कर दी गई थी.

    PM के कार्यक्रम के लाइव प्रसारण के दौरान हंगामा

    रोहतक के किलोई गांव के प्राचीन शिव मंदिर के पास भाजपा नेता और किसान आमने-सामने आ गए, जिसे देखते हुए पुलिस फोर्स तैनात किया गया है. उत्तराखंड में केदारनाथ धाम पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पूजा दर्शन समेत कई शिलान्यास और उद्घाटन कार्यक्रम का लाइव प्रसारण हो रहा था. सूचना मिलने पर मंदिर के बाहर किसान एकत्रित हुए और विरोध करने लगे.

    भाजपा के कई बड़े नेता मंदिर परिसर में कैद

    शिव मंदिर किलोई में भाजपा के कई बड़े नेता PM मोदी का कार्यक्रम लाइव देखने पहुंचे हैं. इनमें प्रदेश उपाध्यक्ष पूर्व सहकारिता मंत्री मनीष कुमार ग्रोवर, भाजपा संगठन मंत्री रविंद्र राजू, किलोई से चुनाव लड़ चुके सतीश नांदल, रोहतक नगर निगम मेयर मनमोहन गोयल, भाजपा जिला अध्यक्ष अजय बंसल, भाजपा महिला मोर्चा अध्यक्ष उषा शर्मा, पूर्व विधायक कलानौर से सरिता नारायण, पूर्व महिला जिला अध्यक्ष आशा शर्मा, युवा मोर्चा जिला अध्यक्ष नवीन ढुल, युवा मोर्चा जिला उपाध्यक्ष मनीष दांगी समेत तमाम नेता शामिल हैं.

    मंदिर के ऊपर चढ़े युवा, किसानों ने चारों ओर लगाए ट्रैक्टर-ट्रॉली

    किलोई के शिव मंदिर में हालात गंभीर बने हुए हैं. इस दौरान करीब 100 से 150 युवा मंदिर की छत पर पहुंच चुके हैं. किसानों और ग्रामीणों के अलावा आसपास के गांवों के लोग भी बड़ी संख्या में मौके पर पहुंच चुके. मौजूद किसान और ग्रामीण भाजपा के खिलाफ नारेबाजी कर रहे हैं. किसानो ने पूर्व मंत्री मनीष ग्रोवर को आधे घंटे में माफी के लिए कहा. ऐसा नहीं करने पर उग्र प्रदर्शन की चेतावनी दी. किसानों ने आह्वान किया कि मंदिर के आगे-पीछे, दाएं और बाएं चारों ओर किसान खुद खड़े हो जाएं. इसके बाद अब किसानों की भीड़ चारों तरफ से मंदिर परिसर को घेर चुकी है और ट्रैक्टर-ट्रॉली भी खड़े कर दिए हैं.

    एक नेता मांग रहे थे माफी, लेकिन दूसरे नेता अड़े 

    मंदिर की बालकनी में आ कर भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष मनीष ग्रोवर ने लोगों से बात करने की कोशिश की. हालांकि लोगों की हूटिंग के बीच कुछ भी उनके बोलने के दौरान सुनाई नहीं दिया. इस दौरान भाजपा नेताओं ने हाथ जोड़कर माफी मांगी. सतीश नांदल भी माफी मांग रहे थे, लेकिन मनीष ग्रोवर अड़ गए और उन्होंने हाथ नहीं जोड़े. इससे किसान भड़क गए. किसानों ने कहा कि यदि आधे घंटे में मनीष ग्रोवर ने माफी नहीं मांगी तो वह सख्त विरोध करेंगे.

    पुलिस को किसी भी हालत से निपटने को तैयार रहने को कहा गया है. वहीं दोपहर दो बजे के करीब मौके पर जिला उपायुक्त (डीसी) कैप्टन मनोज कुमार भी पहुंचे और किसानों से बात की. किसान इस बात पर अड़े हैं कि उनसे हाथ जोड़कर माफी नहीं मांगी गई. मंदिर के बाहर भारी संख्या में ग्रामीण और किसान इकट्‌ठे हो गए हैं. भाजपा नेताओं को मंदिर से निकालने के लिए भारी संख्या में पुलिस बुलाई गई है.

    Tags: Farmer Protest, Haryana Farmers, Haryana news, Kisan Andolan, Rohtak News

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर