शेफाली वर्मा ने डेब्यू टेस्ट में किया शानदार प्रदर्शन, पिता ने दिया ये रिएक्शन

शेफाली वर्मा ने डेब्यू टेस्ट की दोनों पारियों में अर्धशतक जड़ा था. (PIC: AP)

Shafali Verma Creates History: भारतीय महिला क्रिकेट टीम की युवा सलामी बल्लेबाज शेफाली वर्मा ने इंग्लैंड के खिलाफ एकमात्र टेस्ट में शानदार प्रदर्शन किया. उन्होंने दोनों पारियों में अपने बल्ला से जौहर दिखाया.

  • Share this:
रोहतक. भारतीय महिला क्रिकेट टीम (Indian Women Cricket Team) की खिलाड़ी शेफाली वर्मा ने एक बार फिर इतिहास रचा (Shafali Verma creates history) है. डेब्यू टेस्ट में भारत के लिए सबसे ज्यादा रन बनाने वाली पहली महिला क्रिकेटर बन गई हैं. इसके बाद शेफाली के परिवार में खुशी का माहौल है. पिता बोले कि कड़ी मेहनत और देश के लोगों की दुआओं की वजह से आज उनकी बेटी इस मुकाम पर है.

दरअसल भारत और इंग्लैंड की महिला क्रिकेट टीमों के बीच ब्रिस्टल में खेले गए एकमात्र टेस्ट के दूसरे दिन शेफाली वर्मा ने वो कर दिखाया जो आज तक किसी खिलाड़ी ने नहीं किया था. महज 17 साल की शैफाली ने भारत की पहली पारी में 152 गेंदो में 96 रनों की पारी खेलकर 26 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ दिया है. वह डेब्यू टेस्ट में भारत के लिए सबसे ज्यादा रन बनाने वाली भारतीय महिला क्रिकेटर बन गई हैं.

रोहतक से निकलकर अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भारत का नाम रौशन करने वाली शेफाली अपनी प्रैक्टिस के वक्त लड़कों की बॉल पर भी तेज रफ्तार से शॉट खेलती थी. परिणामस्वरूप आज भारत के लिए खेलकर शेफाली पुराने रिकॉर्ड तोड़ रही है. शेफाली के पिता संजीव ने कहा कि उन्हें अपनी बेटी पर गर्व है, जो आज रोहतक ही नहीं, बल्कि पूरे देश का भी नाम ऊंचा कर ही है.

मैच से पहले बेटी से फोन पर हुई बात के दौरान पिता ने शेफाली से टाइमिंग पर ध्यान देते हुए निडर होकर खेलने के लिया कहा था. उन्होंने बताया कि बेटी की जरूरत पूरी करने के लिए कई बार खुद की जरूरतों और खुशियों से समझौता किया है. शेफाली की मां प्रवीण ने कहा कि वे आज बेहद खुश हैं कि उनकी बेटी पुराने रिकॉर्ड तोड़कर नए रिकॉर्ड स्थापित कर रही है. शेफाली को हमेशा बेटा समझकर घर से खेलने भेजती थी. उन्होंने कभी बेटा-बेटी में भेदभाव नहीं किया और हमेशा उसका साथ दिया.

शेफाली और भाई साहिल दोनों एक साथ मैदान पर प्रैक्टिस करते थे. साहिल ने बताया कि शेफाली दूसरे खिलाड़ियों से काफी अलग थी. क्रिकेट मैच में अच्छे लड़कों के सामने बैटिंग कर अधिक रन बनाकर बेहतरीन प्रदर्शन करती थी. कोच शेफाली की बैटिंग के कारण उसे काफी मोटिवेट करते थे. जिसकी वजह से शैफाली आज इस मुकाम पर है और भविष्य में भी भारत की झोली में ज्यादा से ज्यादा रन बनाकर रिकॉर्ड बनाती रहेगी.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.