• Home
  • »
  • News
  • »
  • haryana
  • »
  • रोहतक: वाहन रजिस्ट्रेशन के नाम पर फर्जीवाड़ा, SDM कार्यालय में CM फ्लाइंग ने मारा छापा

रोहतक: वाहन रजिस्ट्रेशन के नाम पर फर्जीवाड़ा, SDM कार्यालय में CM फ्लाइंग ने मारा छापा

 एसडीएम राकेश कुमार सैनी का कहना है कि अब यहां कोई भी ऑपरेटर 6 माह से ज्यादा तैनात नहीं रहेगा.

एसडीएम राकेश कुमार सैनी का कहना है कि अब यहां कोई भी ऑपरेटर 6 माह से ज्यादा तैनात नहीं रहेगा.

CM Flying Raid in Rohtak: आर्य नगर पुलिस स्टेशन ने मुख्यमंत्री उड़नदस्ता के इंस्पेक्टर सतपाल की शिकायत पर इस संबंध में धोखाधड़ी और षडयंत्र समेत कई धाराओं के तहत केस दर्ज कर लिया.

  • Share this:

    रोहतक. एसडीएम ऑफिस में गाड़ियों के फर्जी दस्तावेज तैयार कर गलत तरीके से रजिस्ट्रेशन करने का मामला उजागर हुआ है. इस संबंध में तत्कालीन मोटर रजिस्ट्रेशन क्लर्क समेत कई अन्य के खिलाफ आर्य नगर पुलिस स्टेशन में केस दर्ज हुआ है. मुख्यमंत्री फ्लाइंग (CM Flying) टीम ने एक दिन पहले एसडीएम ऑफिस में रेड की. इस दौरान दूसरे राज्यों से फाइनेंस (Finance) या चोरी की गाड़ियों के फर्जी दस्तावेज तैयार कर गलत तरीके से रजिस्ट्रेशन की बात सामने आई थी.

    छापामार टीम ने ऐसी ही तीन गाड़ियों का रिकॉर्ड खंगाला तो गड़बड़ी सामने आई. खुद एसडीएम राकेश कुमार सैनी कार्यालय में मौजूद थे. मोटर रजिस्ट्रेशन क्लर्क जसबीर ने तमाम रिकॉर्ड निकालकर दिया. जांच में सामने आया कि तीन गाड़ियों की फीस डिटेल में चेसिस नंबर में स्टार लगाया हुआ था, ताकि ऑनलाइन साफ्टवेयर में गड़बड़ी पकड़ में न आए.

    कई धाराओं के तहत केस दर्ज

    फिर पता चला कि इन गाडियों के मालिक विजय नगर निवासी अजीत, दिल्ली रोड रोहतक निवासी संजय और चुन्नीपुरा निवासी सत्यवान ने तत्कालीन मोटर रजिस्ट्रेशन क्लर्क सतविंद्र व अन्य साथियों के साथ मिलीभगत कर फर्जी दस्तावेज तैयार किए. आर्य नगर पुलिस स्टेशन ने मुख्यमंत्री उड़नदस्ता के इंस्पेक्टर सतपाल की शिकायत पर इस संबंध में धोखाधड़ी और षडयंत्र समेत कई धाराओं के तहत केस दर्ज कर लिया.

    गड़बड़ी करने वाला कर्मचारी बच नहीं सकता

    वहीं, एसडीएम राकेश कुमार सैनी का कहना है कि अब यहां कोई भी ऑपरेटर 6 माह से ज्यादा तैनात नहीं रहेगा. इस बारे में ट्रांसपोर्ट कमिश्नर ने भी पत्र जारी कर रखा है. उन्होंने कहा कि किसी भी प्रकार की गड़बड़ न हो, इसलिए पूरी तरह नजर रखी जाती है. वाहन पोर्टल के जरिए रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया होती है. लेकिन कोई भी गड़बड़ी करने वाला कर्मचारी बच नहीं सकता.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज