जोमैटो से खाना ऑर्डर कर पछता रही साक्षी, ठगों ने अकाउंट से उड़ाए 80 हज़ार रुपये

साक्षी की शिकायत लेकर रोहतक पुलिस ने मामले की जांच पड़ताल भी शुरू कर दी है, लेकिन अब तक साइबर ठगों के गिरेबान तक कानून हाथ नहीं पहुंच पाए हैं.

Dheerendra Chaudhary | News18 Haryana
Updated: July 27, 2019, 11:28 AM IST
जोमैटो से खाना ऑर्डर कर पछता रही साक्षी, ठगों ने अकाउंट से उड़ाए 80 हज़ार रुपये
पीड़िता के खाते से 80 हजार रुपये निकाल लिए गए
Dheerendra Chaudhary | News18 Haryana
Updated: July 27, 2019, 11:28 AM IST
जोमैटो जैसी फेमस मोबाइल एप के जरिये ऑनलाइन खाना ऑर्डर करने वाले सावधान हो जाएं, क्योंकि आप साइबर लुटेरों के रडार पर हैं. साइबर लुटेरे इन एप्स पर नजरें गड़ाए हुए हैं. ताजा घटना हरियाणा के रोहतक की है, जहां एमडी यूनिवर्सिटी में एमए की पढ़ाई कर रही स्टूडेंट ऑनलाइन खाना ऑर्डर करके पछता रही है, क्योंकि साइबर ठगों ने उसके खाते से मिनटों में 80 हजार रुपये उड़ा डाले. अपने पैसे वापस पाने के लिए यह छात्रा अब कभी जोमैटो ऑफिस तो कभी पुलिस थाने के चक्कर लगाने को मजबूर है.

यूनिवर्सिटी में पढ़ने वाली छात्रा साक्षी ऑनलाइन ठगी का ताजा शिकार हुई है. साक्षी अब उस वक्त को कोस रही है, जब उसके जेहन में जोमैटो के जरिए ऑनलाइन खाना ऑर्डर करने का खयाल आया था. साक्षी को क्या मालूम था कि ऑनलाइन खाना ऑर्डर करना उसे इस कदर महंगा पड़ जाएगा कि उसे पुलिस चौकी और थाने के चक्कर काटने पड़ेंगे.

पीड़िता ने किया था खाने का ऑनलाइन ऑर्डर
साक्षी के मुताबिक उसने जोमैटो पर खाने के लिए ऑनलाइन ऑर्डर किया था. इसके लिए पेटीएम के जरिए ₹190 उसने जोमैटो को अदा कर दिए. करीब आधे घंटे में ही डिलीवरी ब्वॉय खाना देकर चला गया, लेकिन साक्षी ने जब खाने का पैकेट खोला तो उसे निम्न क्वालिटी का खाना मिला. उसने तुरंत डिलीवरी ब्वॉय को कॉल करके खाना वापस ले जाने को कहा तो डिलीवरी ब्वॉय ने इनकार करते हुए उसे कस्टमर केयर पर बात करने को कहा. कहा कि कस्टमर केयर का नंबर गूगल पर सर्च कर लो.

कस्टमर केयर पर किया फोन
जोमैटो कस्टमर केयर टाइप करके गूगल पर जब साक्षी ने देखा तो उसे जोमैटो के लोगों के साथ सामने मोबाइल स्क्रीन पर कस्टमर केयर का एक नंबर नजर आया. साक्षी ने इस नंबर पर डायल करके खाना वापस ले जाने और अपने पैसे वापस करने की बात कही, लेकिन उसने कभी सपने में भी नहीं सोचा था कि उसका यह कहना ही उसे बहुत भारी पड़ने वाला है.

पीड़िता को बातों में उलझाकर किया ये काम
Loading...

खुद को जोमैटो का कस्टमर केयर अधिकारी बताते हुए फोन कॉल पर दूसरी तरफ से बोल रहे व्यक्ति ने साक्षी को बातों में उलझा कर उसके बैंक खाते की डिटेल और उस पर रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर एवं एटीएम की लास्ट 6 डिजिट पूछ ली. खुद को कस्टमर केयर अधिकारी बताने वाले व्यक्ति ने कहा कि जल्दी ही आपके पैसे वापस आपके अकाउंट में डाल दिए जाएंगे.

80 हजार रुपये की ठगी
खुद को जोमैटो का कस्टमर केयर अधिकारी बताने वाले शख्स ने साक्षी को कहा कि वह अभी फोन कॉल को डिस्कनेक्ट ना करें. वह उसके बैंक खाते में पैसा रिफंड कर रहा है. साक्षी उसकी बातों पर यकीन करके कॉल चालू किये बैठी रही. दूसरी ओर, उसके मोबाइल पर एक-एक करके धड़ाधड़ मैसेज आने लगे. यह मैसेज उसके बैंक खाते से पैसे निकलने के थे. महज चंद मिनट के अंदर ही साक्षी के खाते से कुल 14 ट्रांजैक्शन हुई और करीब ₹80000 (अस्सी हजार) उसके खाते से कट गए और इसके बाद कॉल डिस्कनेक्ट हो गई. खुद के साथ हुई इस साइबर ठगी का अहसास होते ही साक्षी ने तुरंत ही बैंक के टोल फ्री नंबर पर फोन करके अपना एटीएम कार्ड ब्लॉक करवाया और रोहतक पुलिस को इस घटना के बारे में शिकायत दी.

जोमेटो ने कहा, हमारा कोई लेना-देना नहीं
अपने साथ हुई ठगी से हैरान-परेशान साक्षी रोहतक के अशोका प्लाजा में बने जोमैटो के ऑफिस पर भी गई, लेकिन काफी बहस के बावजूद कुछ हासिल नहीं हुआ. जोमैटो के ऑफिस पर मिले लोगों ने कहा कि उनका इस फ्रॉड से कोई लेना देना नहीं है. साक्षी ने गूगल पर सर्च करके जो नंबर मिलाया वह जोमैटो कस्टमर केयर का है ही नहीं. इसी बात को लेकर साक्षी और उसके परिवार वालों तथा जोमैटो ऑफिस पर मिले लोगों के बीच काफी देर तक विवाद भी हुआ. आखिर में जोमैटो वालों ने कहा कि उन्होंने अपने हेडऑफिस को इससे अवगत करवा दिया है.

पुलिस ने शुरू की जांच
वहीं, साक्षी की शिकायत लेकर रोहतक पुलिस ने मामले की जांच पड़ताल भी शुरू कर दी है, लेकिन फिलहाल तक साइबर ठगों के गिरेबान तक कानून के लंबे कहे जाने वाले हाथ नहीं पहुंच पाए हैं. हालांकि, पीजीआईएमएस पुलिस थाने के एसएसओ अनिल कुमार का कहना है कि पुलिस बारीकी से इस केस की छानबीन में जुट गई है और साइबर ठगों को पकड़ने के प्रयास किये जा रहे हैं. लेकिन, साइबर ठगी से जुड़े अधिकतर मामलों की स्टेटस रिपोर्ट को देखते हुए यकीन के साथ कह पाना जरा मुश्किल ही है कि साक्षी को उसके 80 हजार रुपये कभी वापस मिल भी पाएंगे.

ये भी पढे़ं- बिजली चोरी करते पकड़ाया कांग्रेस IT सेल का जिलाध्यक्ष, 20 हजार का जुर्माना

ये भी पढ़ें - S.P ऑफिस के बाहर शख्स ने की सुसाइड अटेम्प्ट, काटी नसें

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रोहतक से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 27, 2019, 10:10 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...