होम /न्यूज /हरियाणा /हरियाणा: हुड्डा ने CM खट्टर पर लगाया उकसाने का आरोप, विधेयक फाड़ने वाले MLA का किया बचाव

हरियाणा: हुड्डा ने CM खट्टर पर लगाया उकसाने का आरोप, विधेयक फाड़ने वाले MLA का किया बचाव

हुड्डा ने कहा कि यह 'Sudden Provocation' का परिणाम है.

हुड्डा ने कहा कि यह 'Sudden Provocation' का परिणाम है.

Haryana Budget Session 2022: कांग्रेस विधायक रघुबीर सिंह कादियान द्वारा सदन में विधेयक की प्रति फाड़ने और उन्हें सदन से ...अधिक पढ़ें

रोहतक. पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा (Bhupinder Singh Hooda) ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर (Manohar Lal Khattar) पर विधानसभा में कांग्रेस विधायकों को उकसाने का आरोप लगाया है. सदन में कांग्रेस विधायक रघुबीर सिंह कादियान द्वारा विधेयक की प्रति फाड़े जाने पर प्रतिक्रिया देते हुए हुड्डा ने सीएम मनोहर लाल खट्टर को ही जिम्मेदार ठहरा दिया. हुड्डा ने कहा कि यह ‘Sudden Provocation’ का परिणाम है और मुख्यमंत्री के उकसावे पर ऐसा हुआ है.

बता दें कि रोहतक में अपने आवास पर पहुंचे पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कार्यकर्ताओं से मुलाकात की और उसके बाद पत्रकारों से बातचीत करते हुए कई मुद्दों पर अपनी राय दी. धर्म परिवर्तन संबंधी विधेयक की निंदा करते हुए हुड्डा ने कहा कि इसकी कोई जरूरत नहीं है और अचानक से ऐसा विधेयक नहीं लाना चाहिए. हमारे प्रदेश में जबरन धर्म परिवर्तन के मामले नहीं है, बेवजह इसे तूल दिया जा रहा है.

वहीं, कांग्रेस विधायक रघुबीर सिंह कादियान द्वारा सदन में विधेयक की प्रति फाड़ने और उन्हें सदन से निष्कासित किए जाने संबंधी घटनाक्रम पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए हुड्डा ने कहा कि डॉक्टर कादयान का कोई कसूर नहीं है, उन्हें बेवजह कटघरे में खड़ा किया गया है. मुख्यमंत्री ने ऐसे शब्दों का इस्तेमाल किया, जिसकी वजह से उनकी यह प्रतिक्रिया सामने आई.

यह सडन प्रोवोकेशन का मामला था

हुड्डा ने कहा कि मैं खुद भी एक वकील हूं और यह अच्छी तरह से जानता हूं कि यह सडन प्रोवोकेशन का मामला था और मुख्यमंत्री के बयान के बाद अचानक से इस तरह की प्रतिक्रिया रघुबीर सिंह कादियान की तरफ आई. उन्होंने बताया कि Sudden Provocation में तो मार-पिटाई और मर्डर तक के मामले हो जाते हैं और अगर आरोपी इसे साबित करने में कामयाब हो जाता है तो उसे बरी भी कर दिया जाता है.

रघुबीर सिंह कादियान की कोई गलती नहीं

हुड्डा ने कहा कि अगर रघुबीर सिंह कादियान की तरफ से उकसाया जाता तो वह उनको जरूर कहते, लेकिन इसमें उनकी कोई गलती नहीं है. मुख्यमंत्री ने अपने बयानों को लेकर खुद भी खेद प्रकट किया है, जिससे साबित होता है कि उनकी तरफ से सडन प्रोवोकेशन की गई थी.

Tags: Haryana Budget, Haryana news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें