• Home
  • »
  • News
  • »
  • haryana
  • »
  • हरियाणा: पुलिस कांस्टेबल का पेपर रद्द होने के बाद फूटा युवाओं का गुस्सा, सरकार के खिलाफ की नारेबाजी

हरियाणा: पुलिस कांस्टेबल का पेपर रद्द होने के बाद फूटा युवाओं का गुस्सा, सरकार के खिलाफ की नारेबाजी

सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करते युवा

सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करते युवा

Haryana Police Constable Paper Leak: तमाम विद्यार्थियों ने सरकार से समय पर भर्ती कराने की मांग की. इस दौरान परीक्षा की तैयारी करवाने वाले शिक्षक भी प्रदर्शन में शामिल हुए.

  • Share this:

रोहतक. हरियाणा पुलिस कांस्टेबल (Haryana Police Constable) के पेपर रद्द होने के बाद युवाओं का गुस्सा आए दिन बढ़ता जा रहा है. सैंकड़ों युवाओं ने आज रोहतक (Rohtak) में रोष प्रकट करते हुए सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. भर्ती परीक्षा की तैयारी करने वाले युवाओं ने आरोप लगाते हुए कहा कि सरकार उनके भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रही है. वहीं, पेपर पैटर्न निर्धारित करने की भी मांग की गई.

पिछले सप्ताह रद्द हुई हरियाणा पुलिस की परीक्षा को लेकर आज सैकड़ों युवाओं ने एचएसएससी और सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया. नौकरी की तैयारी कर रहे युवा आज अपनी मांगों को लेकर सड़कों पर उतर आए. हाथों में चार्ट लिए हुए नजर आ रहे तमाम विद्यार्थियों ने सरकार से समय पर भर्ती कराने की मांग की. इस दौरान परीक्षा की तैयारी करवाने वाले शिक्षक भी प्रदर्शन में शामिल हुए.

भर्ती परीक्षा की तैयारी कर रहे अजय ने बताया कि मौजूदा सरकार में कई बार पेपर लीक हो चुके हैं. भर्तियां रद्द होना आम बात हो चुकी है. पिछले कई सालों से अपना घर-परिवार छोड़कर अजय रोहतक में रहकर भर्ती परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं. सुबह से शाम तक लाइब्रेरी में पढ़ाई कर भर्ती का इंतजार करते हैं, लेकिन भर्ती होने से पहले ही रद्द हो जाती हैं. उनका परिवार भी अपने बेटे की कामयाबी का इंतजार कर रहा है.

उनके शिक्षक कृष्ण मोहन व प्रवीण राठी ने एचएसएससी पर जमकर निशाना साधा और कहा कि आज नौकरी के लिए युवाओं को पहले से ज्यादा संघर्ष करना पड़ रहा है. सरकार न तो समय पर वेकेंसी निकालती है और न ही निष्पक्षता से पेपर आयोजित करवाती है. प्रश्न पत्र के पैटर्न में भी अपनी मर्जी से बदलाव किया जाता है, जो उचित नहीं है.

उन्होंने सरकार से मांग करते हुए कहा कि हर भर्ती के लिए प्रश्न पत्र का पैटर्न एचएसएससी को तय करना चाहिए, साथ ही पेपर लीक करने वालों के खिलाफ सख्त कानून बनाने चाहिए. समय से नौकरी न मिलने से युवा वर्ग आत्महत्या तक करने को मजबूर हो चुका है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज