Assembly Banner 2021

पत्नी से किया अननैचुरल सेक्‍स, जलती बीड़ी शरीर पर रगड़ी, अब कोर्ट ने सुनाई 7 साल की सजा

कोर्ट ने दोषी पति को सुनाई 7 साल की सजा (सांकेतिक फोटो)

कोर्ट ने दोषी पति को सुनाई 7 साल की सजा (सांकेतिक फोटो)

Court Decision: कोर्ट ने दोषी पति पर साढ़े सात हजार रुपए का जुर्माना भी लगाया. जुर्माना न भरने पर सात महीने की अतिरिक्त सजा भुगतनी होगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 25, 2021, 10:22 AM IST
  • Share this:
रोहतक. हरियाणा के रोहतक जिले में अदालत ने पत्नी के साथ अप्राकृतिक संबंध (Unnatural Sex) बनाने वाले पति को 7 साल जेल की सजा सुनाई है. मामला पिछले साल का है. जिले की थाना शिवाजी कॉलोनी के एक गांव की महिला ने केस दर्ज कराया था कि उनके पति ने शराब पीकर उनके साथ जबरन अप्राकृतिक यौन संबंध बनाए. मना करने पर पति ने उनके साथ मारपीट की और जलती बीड़ी छाती पर रगड़ दी. शोर मचाने पर तीनों बच्चे उसके पास आ गए. इसके बाद आरोपी वहां से भाग गया था.

इस मामले में दोषी पति को अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश आरपी गोयल की अदालत ने 7 साल की सजा सुनाई है. अदालत ने दोषी पर साढ़े सात हजार रुपए का जुर्माना भी लगाया है. जुर्माना न भरने की एवज में सात महीने की अतिरिक्त सजा भुगतनी होगी. इसी के साथ कोर्ट ने टिप्पणी की कि महिलाओं को लेकर संविधान निर्माता डॉ. भीमराव आंबेडकर ने कहा था कि अगर समाज की उन्नति मापनी है तो महिला की उन्नति को मापना होगा.

'अप्राकृतिक यौन संबंध बनाना घोर निंदनीय'
कोर्ट ने यह भी कहा कि स्वामी विवेकानंद ने कहा था कि जैसे पक्षी एक पंख से नहीं उड़ सकता उसी तरह स्त्री और पुरुष एक-दूसरे के बिना नहीं चल सकते. श्री गुरु नानक जी देव ने कहा था कि महिला ने राजाओं को भी जन्म दिया है, उसकी निंदा नहीं कर सकते. पत्नी के साथ अप्राकृतिक यौन संबंध बनाना घोर निंदनीय है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज