लाइव टीवी

दीपेंद्र हुड्डा: रोहतक से हैं कांग्रेस के उम्मीदवार, विरासत में मिली है सियासत
Rohtak News in Hindi

News18 Haryana
Updated: May 11, 2019, 11:37 AM IST
दीपेंद्र हुड्डा: रोहतक से हैं कांग्रेस के उम्मीदवार, विरासत में मिली है सियासत
दीपेंद्र हुड्डा

रोहतक की जनता ने 2009 और 2014 में फिर दीपेंद्र को जीत दिलाई और वो यहां से सांसद चुने गए.

  • Share this:
कांग्रेस ने रोहतक लोकसभा सीट पर प्रत्याशी का ऐलान कर दिया है. कांग्रेस ने इस सीट से दीपेंद्र हुड्डा को उम्मीदवार बनाया है. दीपेंद्र हुड्डा रोहतक की राजनीति में पुराना नाम है. दीपेंद्र हुड्डा को सियासत विरासत में मिली हैं. उनके पिता भूपेंद्र सिंह हुड्डा  मार्च 2005 से अक्टूबर 2014 तक हरियाणा के मुख्यमंत्री रहे. दीपेंद्र हुड्डा के दादा रणबीर सिंह हुड्डा एक स्वतंत्रता सेनानी और संविधान सभा के सदस्य एवं पंजाब में मंत्री थे.

कांग्रेस प्रत्याशी दीपेंद्र हुड्डा की उम्र 40 वर्ष है और उन्होंने बीटेक और एमबीए की पढ़ाई की है. दीपेंद्र ने अक्टूबर 2005 में रोहतक उपचुनाव के दौरान पहली बार जीते और सांसद बने.

मोदी लहर में भी कांग्रेस को दिलाई थी जीत

रोहतक की जनता ने 2009 और 2014 में फिर दीपेंद्र को जीत दिलाई और वो यहां से सांसद चुने गए. 2014 में मोदी लहर में हरियाणा में कांग्रेस द्वारा एकमात्र जीती गई सीट दीपेंद्र की ही थी. अब 2019 में फिर रोहतक से कांग्रेस का चेहरा हैं.



विरासत में मिली सियासत

दीपेंद्र को भी सियासत विरासत में मिली है. संविधान सभा के सदस्य रणबीर सिंह हुड्डा दीपेंद्र के दादा हैं और पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा दीपेंद्र के पिता हैं. वर्ष 2014 में कांग्रेस प्रत्याशी दीपेंद्र हुड्डा को 490063 वोट मिले थे. उनके निकटतम प्रतिद्वंदी भाजपा प्रत्याशी ओपी धनखड़ को 319436 वोट मिले थे.दीपेंद्र के सामने गढ़ बचाना चुनौती

पिता द्वारा सोनीपत में चुनाव लड़ने की वजह से उनकी ताकत कम हो गई है, पिछले चुनाव में दीपेंद्र ने चुनाव प्रचार कम किया था जबकि उनके पिता भूपेंद्र हुड्डा ने ज्यादा प्रचार किया था. इस बार दीपेंद्र अपनी मां और पत्नी के साथ प्रचार में जुटे हुए हैं. इस बार भाजपा से अपना गढ़ बचाना उनके लिए चुनौतीपूर्ण माना जा रहा है.

भाजपा के अरविंद शर्मा दे रहे कड़ी टक्कर

भाजपा ने अरविंद शर्मा को भले ही सोनीपत से लाकर रोहतक में उतारा हो लेकिन वे यहां कांग्रेस को पूरी टक्कर दे रहे हैं. साथ ही भाजपा अपने पूरे संगठन की ताकत से चुनाव लड़ रही है. रोहतक निगम चुनाव में मिली जीत का भी उन्हें फायदा मिलेगा. जजपा और कांग्रेस के जाट उम्मीदवारों के बीच अरविंद शर्मा गैर जाट उम्मीदवार हैं. ऐसे में उन्हें इस बात का पूरा फायदा मिल सकता है.

ये भी पढ़ें-

JJP-AAP गठबंधन पर अनिल विज का तंज, 'जीरो में जीरो जोड़ें तो भी नतीजा जीरो ही रहेगा'

लोकसभा चुनाव: JJP और आप में गठबंधन, दुष्यंत बोले-मिलकर प्रदेश में लाएंगे परिवर्तन

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रोहतक से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 11, 2019, 11:10 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर