लाइव टीवी

पूर्व मंत्री धीरपाल के भतीजे अरविंद ने थामा BJP का दामन

News18 Haryana
Updated: October 7, 2019, 1:03 PM IST
पूर्व मंत्री धीरपाल के भतीजे अरविंद ने थामा BJP का दामन
बीजेपी का कुनबा लगातार बढ़ रहा

दो बार कैबिनेट मंत्री रहे धीरपाल के परिवार के युवा नेता अरविंद गुलिया और अभिषेक गुलिया ने बीजेपी का दामन थामा. इसके अलावा पूर्व विधायक वेद नारंग, पूर्व विधायक फूल सिंह खेड़ी और पूर्व विधायक राम स्वरुप रामा ने बीजेपी में अपनी आस्था जताई.

  • Share this:
रोहतक. हरियाणा विधानसभा चुनाव (Haryana Assemble Election) का सियासी पारा चढ़ चुका है. चुनाव प्रचार ने जोर पकड़ लिया है. मुख्यमंत्री मनोहर लाल (Manohar Lal) समेत तमाम मंत्री मैदान में उतर चुके है. इसके साथ ही बीजेपी का कुनबा लगातार बढ़ रहा है. रविवार को रोहतक के तितिहार लेक में आयोजित मुख्यमंत्री मनोहर लाल के कार्यक्रम में पांच बार विधायक रहे और दो बार कैबिनेट मंत्री रहे धीरपाल के परिवार के युवा नेता अरविंद गुलिया और अभिषेक गुलिया ने बीजेपी का दामन थामा. इसके अलावा पूर्व विधायक वेद नारंग, पूर्व विधायक फूल सिंह खेड़ी और पूर्व विधायक राम स्वरुप रामा ने बीजेपी में अपनी आस्था जताई.

हालांकि 6 बार के विधायक और पूर्व मंत्री प्रोफेसर संपत सिंह की भी बीजेपी में शामिल होने के कयास लगाए जा रहे थे. मुख्यमंत्री मनोहर लाल से संपत सिंह की मुलाकात भी हुई. लेकिन लगता है बात सिरे नहीं चढ़ सकी. वहीं संपत सिंह से मुलाकात के बाद सीएम ने सिर्फ इतना कहा कि संपत सिंह अच्‍छे आदमी हैं.

गृह मंत्री और वित्त मंत्री के पदों पर रह चुके हैं संपत सिंह

बता दें कि संपत सिंह ऐसे नेता हैं जिन्होंने सूबे के तीन लाल देवीलाल, बंसीलाल और भजनलाल के साथ काम किया. वो हरियाणा के गृह मंत्री और वित्तमंत्री जैसे बड़े पदों पर रहे चुके हैं. फिलहाल कांग्रेस की राजनीति करने वाले संपत सिंह का टिकट कट चुका है. ऐसे में देखना ये होगा कि संपत सिंह के बीजेपी में शामिल होने की अकटलें हकीकत में कब बदलती हैं.

यह भी पढ़ें- पूर्व मंत्री एसी चौधरी ने दिया कांग्रेस से इस्तीफा, टिकट बेचने का लगाया आरोप

यह भी पढ़ें- कुमारी शैलजा बोलीं, हरियाणा में सत्ता में आने पर माफ करेंगे किसानों का कर्ज

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रोहतक से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 7, 2019, 1:03 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...