Rohtak News: पीजीआई में हुई कोरोना वैक्सीनेशन के आंकड़ों में बढ़ोतरी, अबतक 2300 स्वास्थ्य कर्मियों ने लगवाया टीका

रोहतक पीजीआई में हर दिन 300 लोगों को लगवाया जा रहा टीका

रोहतक पीजीआई में हर दिन 300 लोगों को लगवाया जा रहा टीका

Corona Vaccination: डॉक्टर प्रियंका ने बताया कि 18 जनवरी को टीकाकरण शुरू हुआ था, जिसके बाद पीजीआई के लगभग 8100 लोगों ने पंजीकरण करवाया है.

  • Share this:
रोहतक. कोरोना के खिलाफ टीकाकरण अभियान में पहले की अपेक्षा बढ़ोतरी देखने को मिली है. वैक्सीनेशन (Vaccination) का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है. अब पीजीआई में स्वास्थ्यकर्मी (Health Workers) ज्यादा संख्या में टीका लगवा रहे हैं. स्वास्थ्यकर्मियों को जागरूक करने के लिए भी कार्यक्रम आयोजित हो रहे हैं.

कोरोना के खिलाफ टीके को सबसे पहले स्वास्थ्यकर्मियों पर लगाने की मंजूरी मिली थी. शुरुआती दौर में स्वास्थ्यकर्मी टीका लगवाने के लिए डर रहे थे, उनके अंदर वैक्सीन को लेकर भय बना हुआ था. पीजीआई में चल रही वैक्सीनेशन की इंचार्ज डॉ प्रियंका ने बताया कि पहले कि अपेक्षा अब ज्यादा संख्या में स्वास्थ्यकर्मी और स्टाफ के लोग आ रहे हैं. डॉक्टर्स, सफाईकर्मी, विद्यार्थी और स्टाफ नर्स आदि ने इसके लिए पंजीकरण करवाया है.

18 जनवरी को टीकाकरण शुरू हुआ था

डॉक्टर प्रियंका ने बताया कि 18 जनवरी को टीकाकरण शुरू हुआ था, जिसके बाद पीजीआई के लगभग 8100 लोगों ने पंजीकरण करवाया है. इनमें से तकरीबन 2300 स्वास्थ्यकर्मियों को वैक्सीन लगाई जा चुकी है. प्रत्येक दिन में लगभग 300 लोगों को टीका लगाया जाता है. कुछ ऐसे भी स्वास्थ्यकर्मी हैं, जिनका तकनीकी कारणों के चलते पंजीकरण नहीं हो पाया है.
Youtube Video


अब स्वास्थ्यकर्मियों को को-वैक्सीन की डोज दी जा रही 

हालांकि, तकनीकी समस्या दूर होने के बाद उन्हें भी शामिल किया जाएगा. डॉक्टर प्रियंका के मुताबिक पहले कोविशील्ड वैक्सीन लगाई जा रही थी. लेकिन अब स्वास्थ्यकर्मियों को को-वैक्सीन की डोज दी जा रही हैं. इससे पहले पीजीआई मेडिकल के डॉक्टर्स को यह वैक्सीन लगी थी, लेकिन इसको लेकर डॉक्टर्स में जागरूकता की कमी नजर आई. अब पीजीआई मेडिकल की स्टाफ नर्स और सफाई कर्मचारियों ने वैक्सीनेशन के लिए पंजीकरण कराना शुरू किया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज