अपना शहर चुनें

States

डॉक्टर सुसाइड केस: आरोपी एचओडी सस्पेंड, गिरफ्तारी की मांग पर अड़े साथी डॉक्टर हड़ताल पर

पीजीआई, रोहतक (फाइल फोटो)
पीजीआई, रोहतक (फाइल फोटो)

रोहतक के डॉक्टर्स हॉस्टल में मेडिकल पीजी के छात्र द्वारा आत्महत्या करने के मामले में पीडियाट्रिक डिपार्टमेंट की एचओडी डॉक्टर गीता गठवाला पर केस दर्ज कर लिया गया है.

  • Share this:
पीजीआईएमएस रोहतक के डॉक्टर्स हॉस्टल में मेडिकल पीजी के छात्र द्वारा आत्महत्या करने के मामले में पीडियाट्रिक डिपार्टमेंट की एचओडी डॉक्टर गीता गठवाला पर केस दर्ज कर लिया गया है. एचओडी पर सीनियर रेजीडेंट डॉक्टर ओंकार को प्रताड़ित करने का आरोप है. केस दर्ज होने के बाद डॉक्टर गीता अंडरग्राउंड हो गई हैं. पीजीआई प्रशासन ने उन्हें निलंबित कर दिया है.

इसके पहले रेजीडेंट डॉक्टरों ने शुक्रवार सुबह साढ़े 4 बजे तक हंगामा किया. जब आरोपी एचओडी पर केस दर्ज कर लिया गया तब जाकर ओंकार के शव को उठाने दिया. रेजिडेंट डॉक्टर आरोपी के गिरफ्तारी पर अड़े हैं. जिसके चलते सभी रेजीडेंट डॉक्टर एचओडी की गिरफ्तारी की मांग करते हुए हड़ताल पर चले गए हैं.

परिजनों ने हत्या का लगाया आरोप-



घटना की सूचना मिलने के बाद डॉक्टर ओमकार के परिजन शुक्रवार शाम कर्नाटक से रोहतक डेड हाउस पहुंचे. यहां परिजनों ने एचओडी पर हत्या का आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि 12 जून की बहन की शादी में शामिल होने के लिए गीता ने ओंकार को छुट्टी नहीं दी. छुट्‌टी मंजूर होने के बावजूद थीसिस में अड़ंगा लगाकर ओंकार पर दबाव बनाया और रोक लिया.
आरोपी एचओडी ने बताया साजिश-

आरोपी एचओडी डॉक्टर गीता गठवाला ने मामले को अपने खिलाफ साजिश बताया. उन्होंने कहा कि एचओडी की कुर्सी से हटाने के लिए ही कुछ लोग छात्र के आत्मत्या की आड़ ले रहे हैं. गीता ने कहा कि ओंकार पर गलत इलाज से एक बच्चे की मौत होने का आरोप है. जिसकी जांच रिपोर्ट में आरोप को सही पाया गया और उसपर केस दर्ज किया गया था. इसके साथ ही उसे एक महीने के लिए निलंबित किया गया था.

ये भी पढ़ें- PGI रोहतक के हॉस्टल में छात्र ने पंखे से फंदा लगा दी जान, छात्रों ने HOD पर लगाए आरोप

ये भी पढे़ं- ओल्ड एज होम से बुजुर्ग महिला को धक्के मारकर निकाला बाहर
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज