• Home
  • »
  • News
  • »
  • haryana
  • »
  • रोहतक मर्डर केस: पुलिस का खुलासा, इकलौते बेटे ने 5 लाख नहीं देने पर की थीं 4 हत्‍याएं, दोस्‍त के साथ भागना चाहता था विदेश

रोहतक मर्डर केस: पुलिस का खुलासा, इकलौते बेटे ने 5 लाख नहीं देने पर की थीं 4 हत्‍याएं, दोस्‍त के साथ भागना चाहता था विदेश

रोहतक मर्डर केस का आरोपी 20 साल का अभिषेक उर्फ मोनू समलैंगिक है.

रोहतक मर्डर केस का आरोपी 20 साल का अभिषेक उर्फ मोनू समलैंगिक है.

Rohtak Murder Case: हरियाणा के रोहतक जिले में पिछले दिनों हुई चार लोगों की हत्या की गुत्थी को पुलिस ने सुलझा लिया है. इस मामले में पुलिस ने आरोपी बेटे को गिरफ्तार कर पूछताछ की तो उसके होश उड़ गए. रोहतक पुलिस (Rohtak Police) के मुताबिक, आरोपी अपना जेंडर चेंज करवाकर अपने दोस्‍त के साथ विदेश भागना चाहता था, लेकिन जब परिवार को ये बात पता चली तो उन्‍होंने पिटाई कर दी. इस वजह से उसने सबकी हत्‍या कर दी.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    रोहतक. हरियाण के रोहतक की विजय नगर कॉलोनी में पिछले शुक्रवार को हुई चार लोगों की हत्या (Rohtak Murder Case) की गुत्‍थी को पुलिस ने सुलझा लिया है. पुलिस के मुताबिक, 20 साल के बेटे ने ही अपने मां-बाप, बहन और नानी की हत्या की थी. आरोपी अभिषेक उर्फ मोनू को पुलिस ने गिरफ्तार (Arrest) कर लिया है. रोहतक पुलिस (Rohtak Police) की पूछताछ में हैरान कर देने वाला खुलासा हुआ है. दरअसल अपने ही परिवार का वजूद मिटाने वाला आरोपी मोनू समलैंगिक है.

    पुलिस पूछताछ में मोनू ने खुलासा किया है कि वह सेक्स रिअसाइन्मेंट सर्जरी के जरिए अपना जेंडर चेंज कराना चाहता था. वह पिछले एक साल से सर्जरी के लिए इंटरनेट पर इस तरह के क्लीनिक की जानकारी जुटा रहा था. यही नहीं, वह अपना जेंडर चेंज कराकर उत्तराखंड के दोस्त के साथ विदेश भागना चाहता था. पुलिस के मुताबिक, वह अपने इस काम को अंजाम दे पाता, उससे पहले परिवार को इसका पता चला तो उसे जमकर पीटा. इससे गुस्सा होकर उसने वारदात को अंजाम दिया. हालांकि इस हत्याकांड में पहले प्रॉपर्टी विवाद बताया जा रहा था, लेकिन ऐसा कुछ नहीं है.

    Rohtak Police, Rohtak Murder Case, Haryana News, Haryana Police, Crime News,रोहतक पुलिस, रोहतक मर्डर केस

    आरोपी मोनू ने अपने माता-पिता के अलावा बहन और नानी की हत्‍या की थी.

    ऐसे दिया हत्‍याकांड को अंजाम
    पुलिस के मुताबिक, मोनू ने सबसे पहले अपनी बहन तमन्ना उर्फ तन्नू, फिर नानी रोशनी, मां संतोष उर्फ बबली और पिता प्रदीप मलिक उर्फ बबलू को मारा था. हत्याकांड का मुख्य आरोपी अभिषेक उर्फ मोनू मृतक बबलू का इकलौता बेटा है और जाट कॉलेज में बीए फर्स्ट ईयर का छात्र है.

    जेंडर चेंज कराने के लिए मांगे थे 5 लाख
    पुलिस के मुताबिक, मोनू का उत्तराखंड के नैनीताल के एक युवक के साथ पिछले 4 साल से दोस्ताना संबंध था. जबकि दोनों की दोस्ती दिल्ली में केबिन क्रू कोर्स के दौरान हुई. पुलिस सूत्रों के अनुसार, जेंडर चेंज कराने के बाद मोनू अपने दोस्त के साथ विदेश भागना चाहता था. यही नहीं, वह परिवार से 5 लाख रुपये मांग रहा था, लेकिन परिवार को इस बात पता चला तो उन्होंने रुपये देने से मना कर दिया. यही नहीं, उसने अपने सीने पर दोस्त का टैटू भी गुदवा रखा था.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज