रोहतक: पिता की मौत के 8 साल बाद तक पेंशन लेता रहा बेटा, सरकार को लगाया 92 लाख रुपए का चूना
Rohtak News in Hindi

रोहतक: पिता की मौत के 8 साल बाद तक पेंशन लेता रहा बेटा, सरकार को लगाया 92 लाख रुपए का चूना
पिता की मौत के बाद भी पेंशन उसकी पेंशन लेता रहा बेटा

एसी बहरा का मृत्यु प्रमाण पत्र (death certificate) ट्रेजरी कार्यालय को भेजने के बजाय उनका जीवित प्रमाण पत्र भेज दिया गया, जिसके चलते वहां से भी पेंशन पर रोक नहीं लगाई गई.

  • News18Hindi
  • Last Updated: June 12, 2020, 12:14 PM IST
  • Share this:
रोहतक. हरियाणा के रोहतक (Rohtak) जिले में पिता की मौत के आठ साल बाद तक एक बेटा द्वारा उसकी पेंशन (Pension) लेने का मामला सामने आया है. अधिकारियों को जबतक इस फर्जीवाड़ा के बारे में पता चला तब तक आरोपीसरकार को करीब 92.61 लाख रुपये का चूना लगा चुका था. अब इस पूरे मामले में ट्रेजरी ऑफिसर राजवीर सिंह की शिकायत पर सिविल लाइन थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.

हिंदी अखबार दैनिक जागरण की रिपोर्ट के अनुसान पिता की मौत के आठ साल बाद तक एक बेटा बाप के नाम पर सरकार से पेंशन लेता रहा और अधिकारियों को भनक तक नहीं लग सकी. ट्रेजरी ऑफिसर राजवीर सिंह ने पुलिस को शिकायत देकर बताया कि सेवानिवृत्त कर्मचारी एएसी बहरा की मौत के बाद भी उनके बेटे नरेश कुमार द्वारा आठ साल तक फर्जीवाड़ा करते हुए पेंशन ली जाती रही. इस दौरान आरोपित ने दो बार अपने पिता का फर्जी जीवित प्रमाण पत्र ट्रेजरी दफ्तर और बैंक में भी पेश किया.

ऐसे लगाया चूना



नियमों के अनुसार सेवानिवृत्त कर्मचारी एसी बहरा की एक दिसंबर 2011 को मौत होने के बाद अगले दिन ही उनकी पेंशन बंद हो जानी चाहिए थी, लेकिन उनकी पेंशन लगातार जारी रही. मृतक कर्मचारी के बेटे नरेश कुमार द्वारा कभी एटीएम तो कभी चेक या ऑनलाइन शॉपिंग के माध्यम से पेंशन की धनराशि निकाली जाती रही.
मृत्यु प्रमाण पत्र की जगह भेजा जीवित प्रमाण पत्र

एसी बहरा का मृत्यु प्रमाण पत्र ट्रेजरी कार्यालय को भेजने के बजाय उनका जीवित प्रमाण पत्र भेज दिया गया, जिसके चलते वहां से भी पेंशन पर रोक नहीं लगाई गई. फरीदाबाद ट्रेजरी अधिकारी एसके बंसल (वर्तमान में सेवानिवृत्त) द्वारा 17 अप्रैल 2017 और सात दिसंबर 2018 को मृतक का फर्जी जीवित प्रमाण पत्र फर्जी हस्ताक्षर करते हुए प्रमाण पत्र जारी किया जाता रहा. आरोप है कि वो अपने पिता के स्थान पर कई दफ्तरों में पहुंचकर उनकी उपस्थिति दर्ज कराई और फर्जी हस्ताक्षर भी किए हैं. फिलहाल सिविल लाइन थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.

ये भी पढ़ें-

फतेहाबाद: पंजाब पुलिस के एएसआई की ड्यूटी के दौरान सिर में गोली लगने से मौत

बच्चों से मिलने पहुंचे दामाद को ससुराल वालों ने दौड़ा-दौड़ाकर पीटा, Video Viral
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading