कोवैक्सीन: PGIMS में 20 नवंबर से तीसरे चरण का ट्रायल शुरू, एक हजार वॉलंटियर्स को किया जाएगा शामिल

कोरोना की वैक्‍सीन का जल्द आने की संभावना.
कोरोना की वैक्‍सीन का जल्द आने की संभावना.

Covaxin: स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने इस माह की शुरुआत में ही कोरोना वैक्सीन के तीसरे चरण के ट्रायल के संकेत दे दिया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 19, 2020, 7:09 AM IST
  • Share this:
रोहतक. पीजीआईएमएस में शुक्रवार से को-वैक्सीन (Co-vaccine) के तीसरे चरण का ट्रायल शुरू होने वाला है. इस ट्रायल के पहले वॉलंटियर के तौर पर स्वास्थ्य व गृह मंत्री अनिल विज वैक्सीन की डोज लगवाएंगे. इस बारे में स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज (Anil Vij) ने बुधवार को सोशल मीडिया से यह ऐलान किया है. तीसरे ट्रायल में हेल्थ केयर वर्कर, दमा, डायबिटीज, शुगर, बीपी, हार्ट और किडनी के मरीजों को छह माइक्रोग्राम की वैक्सीन की डोज दी जाएगी. यह जानकारी बुधवार को हेल्थ यूनिवर्सिटी के कुलपति डॉ. ओपी कालरा ने वार्ता के दौरान दी.

उन्होंने मार्च माह तक वैक्सीन मार्केट में आने की संभावना व्यक्त की. इस दौरान पीजीआई डायरेक्टर डॉ. रोहतास यादव, एमएस डॉ. पुष्पा दहिया, ट्रायल कमेटी के को-इंवेस्टीगेटर डॉ. रमेश वर्मा, डीन एकेडमिक डॉ. एसएस लोहचब, डीएमएस डॉ. संदीप और जनसंपर्क अधिकारी डॉ. गजेंद्र सिंह मौजूद रहे. कुलपति डॉ. ओपी कालरा ने बताया कि तीसरे चरण के ट्रायल में देश भर के करीब 20 संस्थानों में 25,800 लोगों पर ट्रायल किया जाएगा.

42 दिन बाद री-टेस्ट किया जाएगा



अब आईसीएमआर की निगरानी में होने वाले तीसरे चरण के ट्रायल में जिन लोगों को वैक्सीन दी जाएगी, उनका 42 दिन बाद री-टेस्ट किया जाएगा, जिसमें देखा जाएगा कि उनके अंदर 4 गुणा तक एंटीबॉडी बनी हैं या नहीं. स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने इस माह की शुरुआत में ही कोरोना वैक्सीन के तीसरे चरण के ट्रायल के संकेत दे दिया था.

हरियाणा में फिर बढ़ने लगा कोरोना मरीजों का आंकड़ा
बता दें, हरियाणा में कोरोना मरीजों का आंकड़ा एक बार फिर बढ़ने लगा है, जो चिंता का विषय है. गत दिवस राज्य में रेवाड़ी जिले के पांच सरकारी व तीन प्राइवेट स्कूलों के 80 बच्चे कोरोना संक्रमित हो गए. यही नहीं, झज्जर में भी निजी व सरकारी स्कूलों के 34 विद्यार्थी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज