Home /News /haryana /

भूपेंद्र सिंह हुड्डा के करीबी पर वीरेंद्र सिंह पर देशद्रोह का मुकदमा

भूपेंद्र सिंह हुड्डा के करीबी पर वीरेंद्र सिंह पर देशद्रोह का मुकदमा

हरियाणा पुलिस ने बुधवार को पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के करीबी सहयोगी माने जाने वाले वीरेंद्र सिंह के खिलाफ जाट आंदोलन के दौरान हिंसा भड़काने का मामला दर्ज किया है.

हरियाणा पुलिस ने बुधवार को पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के करीबी सहयोगी माने जाने वाले वीरेंद्र सिंह के खिलाफ जाट आंदोलन के दौरान हिंसा भड़काने का मामला दर्ज किया है.

हरियाणा पुलिस ने बुधवार को पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के करीबी सहयोगी माने जाने वाले वीरेंद्र सिंह के खिलाफ जाट आंदोलन के दौरान हिंसा भड़काने का मामला दर्ज किया है.

  • Agencies
  • Last Updated :
    हरियाणा पुलिस ने बुधवार को पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के करीबी सहयोगी माने जाने वाले वीरेंद्र सिंह के खिलाफ जाट आंदोलन के दौरान हिंसा भड़काने का मामला दर्ज किया है. अधिकारियों ने यह जानकारी दी. हरियाणा के दलाल खाप के प्रतिनिधि खाप नेता मन सिंह दलाल का नाम भी इस प्राथमिकी में दर्ज है. यह प्राथमिकी रोहतक शहर से 75 किलोमीटर दूर दिल्ली के सिविल लाइंस पुलिस थाने में दर्ज कराई गई है.

    दोनों पर राष्ट्रद्रोह, हिंसा भड़काने और आपराधिक साजिश रचने का आरोप है.

    वीरेंद्र सिंह और दलाल के बीच टेलीफोन पर हुई कथित बातचीत का एक ऑडियो टेप भी सामने आया है, जिसमें वीरेंद्र सिंह सिरसा जिले के युवाओं को जाट आरक्षण आन्दोलन में भाग लेने को उकसा रहे हैं.

    वीरेंद्र सिंह पिछले 10 सालों से हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के राजनीतिक सलाहकार (2005-14) रहे हैं. उन्हें हुड्डा का बेहद करीबी माना जाता है.

    वहीं, कांग्रेस ने इस ऑडियो टेप के सामने आने के बाद वीरेंद्र सिंह को नोटिस जारी किया है. यह नोटिस हरियाणा कांग्रेस अध्यक्ष अशोक तंवर ने जारी किया है.

    वीरेंद्र ने इस ऑडियो टेप से छेड़छाड़ का दावा किया है और पूरी बातचीत जनता के सामने लाने की मांग की है. यह ज्ञात नहीं है कि गैरकानूनी रूप से किसने इस टेप को रिकार्ड किया.

    हरियाणा में जाट आन्दोलन में अब तक 19 लोग मारे गए हैं और 200 घायल हुए हैं. इस आन्दोलन के दौरान करोड़ों रुपये की संपत्ति को नुकसान पहुंचाया गया. हरियाणा के 21 जिलों में से 10 जिले हिंसा प्रभावित रहे.

    हरियाणा के कृषि मंत्री ओ. पी. धनकड़ ने आन्दोलन के दौरान हिंसा के लिए हुड्डा को जिम्मेदार ठहराया है.

    धनकड़ ने कहा कि राज्य के लोग ऐसे लोगों को कभी माफ नहीं करेंगे.

    हुड्डा ने अभी तक इस ऑडियो क्लिप के बारे में कुछ नहीं कहा है. उन्हें रोहतक में स्थानीय लोगों और व्यापारियों ने मंगलवार को घुसने नहीं दिया और उन पर जूते भी फेंके गए.

    हुड्डा ने एक बयान जारी कर कहा, "मैं रोहतक यहां लोगों का दुख दर्द बांटने आया था. अपने गुस्से और दुख को जाहिर करने में बुराई नहीं है. मैं यहां के निवासियों के गुस्से को विनम्रता के साथ स्वीकार करता हूं."

    जाट आन्दोलन के दौरान आन्दोलनकारियों ने सैंकड़ों दुकानों और कार्यालयों को जला दिया. सरकारी और निजी घरों को नुकसान पहुंचाए गए. यहां तक कि शिक्षण संस्थानों और अस्पतालों को भी बख्शा नहीं गया. दुकानें लूट ली गईं और करोड़ों रुपये की संपत्तियां जलाकर राख कर दी गई.

    हरियाणा के खाद्य एवं वितरण मंत्री करन देव काम्बोज ने कहा कि सार्वजनिक और निजी संपत्तियों को नुकसान पहुंचानेवालों की संपत्तियां जब्त कर मुआवजा वसूला जाएगा.

    इस हिसक आन्दोलन को प्रायोजित बताते हुए मंत्री ने कहा, "विपक्षी दलों खासतौर से कांग्रेस ने लोगों के लिए समस्याएं खड़ी की. सरकार उन लोगों की पहचान कर रही है, जिन्होंने हिंसा और आगजनी की."

    Tags: Bhupinder singh hooda, Haryana police, Jat agitation, Jat reservation

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर