अपना शहर चुनें

States

इनेलो की जिम्मेदारी निभाने के बजाय पुत्र मोह में फंसे अजय : अभय चौटाला

अभय चौटाला
अभय चौटाला

अभय ने कहा कि आखिर उनको सौ प्रतिशत ओमप्रकाश चौटाला से माफ़ी मांगनी पड़ेगी. अभय ने कहा कि जिस पार्टी की नींव देवीलाल ने रखी और जिस पार्टी को ओमप्रकाश चौटाला ने अपने संघर्ष के बलबूते खड़ा किया.

  • Share this:
इंडियन नेशनल लोकदल में सियासी विरासत को लेकर हुए बिखराव के बाद पूर्व सांसद अजय सिंह चौटाला एवं उनके छोटे भाई और विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष अभय सिंह चौटाला में जुबानी जंग थमने का नाम नहीं ले रही है. अजय सिंह की ओर से अभय चौटाला को दुर्योधन की संज्ञा देने एवं विधायक नैना चौटाला द्वारा उन्हें गुंडा कहे जाने के बाद आज अभय ने सिरसा में अजय सिंह को 'पुत्रमोह में जकड़े होने का आरोप लगाते हुए यहां तक कह दिया कि 'अजय चौटाला ने पार्टी में अपनी जिम्मेदारी का सही तरीके से निर्वहन ही नहीं किया.

अभय यही नहीं रूके, बल्कि यह भी कह डाला कि 'अजय सिंह के नए सियासी दल का कुछ नहीं बनने वाला, बसपा का क्या कोई भी दूसरा दल इस नए दल से गठबंधन नहीं करेगा. अभय चौटाला बोले बसपा का गठबंधन तो इंडियन नेशनल लोकदल के साथ है. अजय सिंह चौटाला द्वारा नए राजनीतिक दल के संदर्भ में नेता प्रतिपक्ष अभय बोले 'मुझे लगता नहीं जिस नए दल की प्रदेश में चर्चा है, वो किसी से गठबंधन कर पाएगा.

हरियाणा : विधानसभा और लोकसभा की सभी सीटों पर चुनाव लड़ेगी अजय चौटाला की पार्टी



अभय ने कहा कि  आखिर उनको सौ प्रतिशत ओमप्रकाश चौटाला से माफ़ी मांगनी पड़ेगी. अभय ने कहा कि जिस पार्टी की नींव देवीलाल ने रखी और जिस पार्टी को ओमप्रकाश चौटाला ने अपने संघर्ष के बलबूते खड़ा किया. इस पार्टी में अजय सिंह का भी योगदान था, लेकिन जो योगदान उनका पार्टी के प्रति होना चाहिए था, वो उन्होंने निभाया नहीं.
पूर्व मंत्री मोहम्मद इलियास ने उतारा डेढ़ दशक पुराना इनेलो का चश्मा

अभय बोले अजय सिंह अपनी जिम्मेदारी को निभाने की बजाय पुत्रमोह में फंस  गए. अभय ने कहा कि ये जो नया राजनीतिक दल बनाया जा रहा है, ये राजनीतिक दल नहीं है, ये तो पुत्रमोह दल है. अभय ने तर्क रखते हुए कहा कि अजय सिंह हों या नैना चौटाला हों उनके भाषण का केंद्र भी पुत्रमोह पर आधारित है. उनके भाषण में कभी कांग्रेस या भाजपा की गलत नीतियों की आलोचना की बजाय पुत्रमोह में की झलक नजर आती है.

हम सब अब आज़ाद हैं, दिल खोलकर काम करेंगे : नैना चौटाला

अभय सिंह ने कहा कि आज ये लोग मुझे 'गुंडा कहते हैं, दुर्योधन भी कहते हैं, जयचंद कहते हैं. पता नहीं किस-किस भाषा का प्रयोग किया जा रहा है. यह बड़ा प्रश्न बनता है कि अगर मैं इस तरह की प्रवृति का हूं तो फिर इतने समय तक ये मेरे साथ सियासत में कैसे रहें. इतने लम्बे समय तक मेरे से इन्होंने कैसे निभाई? इस सवाल का जवाब भी जनता को दें. अभय ने कहा कि इनका मकसद केवल लोगों को बरगलाना है जबकि इनेलो का मकसद है, भाजपा को सता से बाहर करना और कांग्रेस सत्ता के नजदीक न लाना.

सोनीपत में जिलाध्यक्ष सहित बड़ी संख्या में कार्यकर्ताओं का इनेलो से इस्तीफा
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज