• Home
  • »
  • News
  • »
  • haryana
  • »
  • SIRSA BANK MANAGER AND DEPUTY MANAGER KIDNAPPED IN SIRSA RELEASE THEM AFTER TAKING 7 LAKH RUPEE HRRM

सिरसा: फिल्मी स्टाइल में बैंक मैनेजर और उसके साथी का दिनदहाड़े अपहरण, 7 लाख फिरौती लेकर छोड़ा

सिरसा में लाखों की लूट

Kidnapping and Loot: पुलिस ने बैंक प्रबंधक की शिकायत पर अज्ञात लोगों के खिलाफ अपहरण और लूट का केस दर्ज किया है. पुलिस ने बैंक से लेकर घटनास्थल तक समूचे घटनाक्रम की जानकारी जुटाकर संबंधितों से पूछताछ करते हुए हर पहलू की जांच शुरू कर दी है.

  • Share this:
सिरसा. हरियाणा के सिरसा जिले में फिल्मी स्टाइल में एक बैंक शाखा प्रबंधक और उसके साथी का अपहरण कर लूट की वारदात को अंजाम दिए जाने का मामला सामने आया है. प्रबंधक की शिकायत के मुताबिक लुटेरों ने उसका और उपप्रबंधक साथी का उनकी गाड़ी में बैठकर अपहरण किया और उसके बाद उनसे फिरौती मांगते हुए ज़िले के अलग अलग गांवो में घूमते रहे. आखिरकार पीड़ितों को 7 लाख रुपये देकर दोनों को अपनी जान बचानी पड़ी. पुलिस मामले की गहराई से जांच कर रही है.

शिकायत के मुताबिक गांव लक्कड़ांवाली के एक बैंक के प्रबंधक व उप प्रबंधक अपहरण और लूट की वारदात का शिकार हुए. अपहरणकर्ताओं ने दोनों लोगों को फिरौती की शक्ल में सात लाख रुपये लेकर छोड़ दिया. मामले की सूचना मिलने के बाद बडागुढ़ा पुलिस ने बैंक में पहुंचकर जानकारी जुटाई और जांच शुरू की. बैंक प्रबंधक सिरसा निवासी कमल कटारिया ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि वे रोजमर्रा के अनुसार सोमवार सुबह कार में सवार होकर सिरसा (Sirsa) से लक्कड़ांवाली बैंक के लिए चले थे. दोनों के मुताबिक जब वे गांव छतरियां के बीच पहुंचे तो रास्ते में एक होंडा सिटी कार उनकी कार के आगे आकर रुक गई. कार में सवार छह नकाबपोश युवकों में से चार उतरकर उनकी गाड़ी में बैठ गए.

नकाबपोशों ने ऐसे किया अपहरण
बैंक प्रबंधक के मुताबिक नकाबपोश युवकों ने उन्हें डराते हुए कहा कि वे गदराना निवासी एक युवती को क्यों छेड़कर आए हैं. ये कहते हुए युवक दोनों लोगों को दौलतपुर खेड़ा, ख्योवाली, ओढां, चोरमार, लंबी सहित अन्य क्षेत्र में दिनभर लेकर घूमते रहे. बैंक प्रबंधक के मुताबिक युवकों ने उनसे कहा कि उनका अपहरण कर लिया गया है. अगर वे अपनी जान की सलामती चाहते हैं तो उन्हें 15 लाख रुपये दें. 7 लाख रुपये में उन्हें छोड़ना तय हुआ.

बदमाशों ने उनसे बैंक में फोन करवाया
बैंक प्रबंधक के मुताबिक बदमाशों ने उनसे बैंक में फोन करवाया. इन बदमाशों के दबाव में आकर प्रबंधक ने बैंक के कैशियर को फोन किया कि उसके रिश्तेदार का एक्सीडेंट हो गया है. इसलिए उसे इसी समय सात लाख रुपये की जरूरत है. प्रबंधक ने बदमाशों की गाड़ी का नंबर बताते हुए कहा कि यह गाड़ी पैसे लेने आ रही है, जिसके बाद कैशियर ने 7 लाख रुपये गदराना फाटक पर कार सवारों को दे दिए.

मामले की जांच में जुटी पुलिस
पैसे मिलने पर बदमाशों ने बैंक प्रबंधकों को उनकी गाड़ी सहित मौजगढ़ के निकट छोड़ दिया. इसके बाद दोनों दोपहर बाद करीब दो बजे बैंक में पहुंचे और पुलिस को सूचना दी. थाना प्रभारी राज महेंद्र ने बताया कि पुलिस ने बैंक प्रबंधक की शिकायत पर अज्ञात लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है. पुलिस मामले की हर पहलू से जांच कर रही है.