किसानों ने 'दुष्यंत चौटाला' को घेरा, नारेबाजी की; सिरसा से बाहर निकलवाने में छूटे पुलिस के पसीने

नारेबाजी के साथ किसानों ने  दुष्यंत चौटाला  को काले झंडे दिखाए.

नारेबाजी के साथ किसानों ने दुष्यंत चौटाला को काले झंडे दिखाए.

किसानों द्वारा हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला (Dushyant Chautala) का विरोध जारी है. मंगलवार को उपमुख्यमंत्री ने सिरसा पहुंचने पर किसानों ने काले झंडे दिखाए और नारेबाजी की,

  • Share this:
सिरसा. कृषि कानून के आक्रोश के बीच किसानों (Farmers Protest) द्वारा हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला (Dushyant Chautala) के विरोध का सिलसिला लगातार जारी है. मंगलवार शाम उपमुख्यमंत्री बरनाला रोड स्थित पुलिस लाइन से हेलीकॉप्टर से रवाना हुए. हेलीकॉप्टर के पुलिस लाइन पहुंचने की सूचना पर किसान भी एकत्रित हो गए. पुलिस की ओर से किसानों को रोकने के लिए रास्ते में बैरिकेड लगा दिए गए. इसके बाद किसानों ने हाथों में काले झंडे लेकर ने नारेबाजी शुरू कर दी. शाम करीब पांच बजे के बाद उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला दूसरे रास्ते से पहुंचे.

पुलिस लाइन में खड़े हेलीकॉप्टर में सवार हुए और सिरसा से रवाना हो गए. इस दौरान किसान हाथों में काले झंडे लेकर नारेबाजी करते रहे. हेलीकॉप्टर के उड़ान भरने के बाद भी किसानों ने काले झंडे लहराए और नारेबाजी की. इसके बाद प्रदर्शनकारी किसान पक्का मोर्चा स्थित धरना स्थल पर लौट आए. सुरक्षा के दृष्टि से मौके पर बड़ी संख्या में पुलिस अधिकारी मौजूद रहे. किसान नेता सुखविन्द्र सिंह ने कहा कि जब तक उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चैटाला बीजेपी सरकार से समर्थन वापस नहीं लेते उनका विरोध जारी रहेगा.

इस पूर्व मंत्री के खिलाफ किसानों ने की नारेबाजी

हरियाणा के हांसी में किसानों की महापंचायत में उनका समर्थन करने पहुंचे बीजेपी नेता व पूर्व मंत्री अत्तर सिंह सैनी के खिलाफ ही किसानों ने नारेबाजी शुरू कर दी. माहौल ज्यादा गड़बड़ाते देख पूर्व मंत्री अत्तर सिंह सैनी मौके से खिसक लिये. दरअसल, भाजपा नेता अत्तर सिंह सैनी चुनाव के बाद से समय-समय पर पार्टी लाइन के खिलाफ जाकर बयान देते आए हैं. कई बार कृषि कानूनों के खिलाफ बोल चुके हैं.
ये भी पढ़ें: छत्तीसगढ़ में फिर टूटा रिकॉर्ड, एक दिन में मिले COVID-19 के 3108 नए मरीज, 29 की मौत

रविवार को पूर्व मंत्री अत्तर सिंह सैनी रामायण टोल प्लाजा पर किसान आंदोलन का समर्थन करने पहुंच गए. कृषि कानूनों को लेकर मंत्री जी ने पूरा भाषण भी दिया, लेकिन किसानों ने कहा कि वह पीएम मोदी का पुतला फूंकने वाले हैं और इसमें शामिल होने की गुजारिश की. इसके बाद अत्तर सिंह सैनी मौके से निकले लगे तो किसान भड़क गए. किसानों ने अत्तर सिंह सैनी के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी. टोल प्लाजा पर भाषण देते हुए पूर्व मंत्री ने कहा कि वह नेता होने से पहले किसान हैं और ये तीनों कृषि कानून गलत हैं जिन्हें किसानों पर थोपा जा रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज