हरियाणा में बनेगा किसान चौक, प्रहलाद भारूखेड़ा बोले- नुकसान पहुंचाया तो भुगतना होगा अंजाम

हरियाणा के सिरसा में बनेगा किसान चौक.  (सांकेतिक फोटो)

हरियाणा के सिरसा में बनेगा किसान चौक. (सांकेतिक फोटो)

Farmer's Protest: हरियाणा के सिरसा में किसान चौक की नींव रखी गई है. किसान मंच के प्रदेशाध्यक्ष प्रहलाद सिंह भारूखेड़ा (Prahlada Singh Bharukhera) ने कहा कि नुकसान पहुंचाया तो अंजाम भुगतना होगा. 

  • Share this:
सिरसा. हरियाणा (Haryana) के सिरसा (Sirsa) के मिनी बाईपास रोड पर हुडा के निकट शनिवार दोपहर किसान संगठनों और मिट्टी सत्याग्रह यात्रा में शामिल सदस्यों ने किसान चौक की नींव का पत्थर रखा. निर्माण की शुरूआत देश के अलग-अलग हिस्सों में स्थित शहीद स्मारकों से लाई गई मिट्टी से की गई. इसके बाद ईंटें लगाकर  नींव पत्थर रखा गया. दो मटकी रखकर उनमें किसान संघर्ष का झंडा भी स्थापित किया गया. इस दौरान किसानों ने भाजपा सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की.

प्रदर्शनकारियों ने पुलिस और प्रशासन को चेतावनी दी कि अगर किसान चौक को किसी तरह का नुकसान पहुंचाया गया तो इसके गंभीर परिणाम भुगतने होंगे. किसानों ने चौक निर्माण का जो स्थान चुना इसके निकट ही जननायक जनता पार्टी का कार्यालय भी है. किसानों के चौक का नींव पत्थर रखने की सूचना पर यहां भारी पुलिस बल तैनात किया गया था. एसडीएम जयवीर यादव और डीएसपी मनोज कुमार सहित अलग-अलग थानों के प्रभारी भी मौके पर मौजूद रहे.

ये भी पढ़ें: बड़ा फैसला: रायपुर में नहीं लगेगा लॉकडाउन, सभी दुकानें शाम 6 बजे के बाद बंद, पढ़ें जरूरी गाइडलाइंस 

 प्रहलाद सिंह भारूखेड़ा का बड़ा  बयान
हरियाणा किसान मंच के प्रदेशाध्यक्ष प्रहलाद सिंह भारूखेड़ा ने कहा कि सिरसा के धरती पर आज ऐतिहासिक किसान चौक का नींव पत्थर रखा गया है. उन्होंने कहा कि शहीदों स्मारकों से लाई गई मिट्टी का इस्तेमाल करते हुए इस चोक का निर्माण शुरू हुआ है. उन्होंने कहा कि इसी रास्ते पर उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चैटाला और कैबिनेट मंत्री रणजीत सिंह चैटाला के आवास हैं. ऐसे में अगर इस चैक का अपमान होता है तो किसान इसे बर्दाश्त नहीं करेंगे. उन्होंने कहा कि आज नींव पत्थर रखा गया है. भविष्य में इस स्थान पर भव्य चोक का निर्माण होगा और यहां शहीद किसानों का स्टैच्यू भी लगाया जाएगा. आगामी कार्यक्रम को लेकर उन्होंने कहा कि 5 अप्रैल को एफसीआई बचाओ दिवस मनाते हुए गोदामों के समक्ष धरने लगाए जाएंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज