Positive India: इंस्पेक्टर दंपति ने योग कर और तनाव रहित रहकर कोरोना को हराया

इंस्पेक्टर दंपति ने कोरोना को हराया

इंस्पेक्टर दंपति ने कोरोना को हराया

Positive India: इंस्पेक्टर दंपति का कहना है कि संक्रमण होने पर घबराना नहीं, आत्मविश्वास, तनाव रहित रहकर और नियमित योग कर जीत हासिल की जा सकती है.

  • Share this:
सिरसा. कोरोना के बढ़ते प्रकोप ने लोगों की मुश्किलें बढ़ा दी है कहीं पर अस्पतालों (Hospitals) में बेड नहीं है, कहीं पर अस्पतालों में ऑक्सीजन की शॉर्टेज है. रोजाना कोरोना से लोगों की मौतें (Deaths) हो रही हैं. ऐसी खबरें देखकर लोगों की भी चिंता है बढ़ रही है. इसी बीच हम आपको सिरसा के इस्पेक्टर की कहानी बताने जा रह हैं  जिससे आपको कोरोना से लड़ने का जज्बा मिलेगा. इंस्पेक्टर अनिल सोढ़ी विजिलेंस इंस्पेक्टर है तो उनकी धर्मपत्नी सीमा सोढ़ी महिला थाने में थाना प्रभारी हैं. दोनों को कोरोना हुआ  और दोनों ने इसे हराया.

कोरोना को हराने वाले विजिलेंस इंस्पेक्टर अनिल सोढी और उनकी पत्नी महिला थाना प्रभारी सीमा सोढी का कहना है अगर  कोरोना को हराना है तो खुद को हारने मत दो. संक्रमण होने पर घबराना नहीं, आत्मविश्वास, तनाव रहित रहकर और नियमित योग कर जीत हासिल की जा सकती है. हमने संक्रमित होने पर नियमित भोजन किया, हर दिन अपना ऑक्सीजन लेवल चेक करते रहे. किताबें पढ़कर खुद को सकारात्मक रखा। आखिर कोरोना संक्रमण को मात दे ही दी.

विजिलेंस इंस्पेक्टर अनिल सोढी ने बताया कि एक अप्रैल 2021 को उसे हल्का बुखार होना शुरू हुआ. साथ ही सूंघने की क्षमता खत्म हो गई. उसे चिकित्सक ने कोविड का टेस्ट करवाने की राय दी. रिपोर्ट आने से पहले ही चार अप्रैल को वे दोनों होम क्वारंटीन हो गए. हालांकि उसकी पत्नी सीमा सोढी में कोई लक्षण दिखाई नहीं दे रहे थे. फिर भी दोनों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई. चिकित्सक की सलाह पर बुखार होने पर पैरासिट्रामोल लेते रहे. पांच दिन बुखार रहा. घर में रहकर दोनों पति-पत्नी ने अपनी नियमित दिनचर्चा जारी रखी. उन्होंने नियमित भोजन और योग किया. इसी बीच दोबारा रिपोर्ट करवाई तो नॉर्मल आई.

17 दिन का क्वारंटीन पीरियड खत्म होने के बाद 22 अप्रैल को उन्होंने दोबारा ड्यूटी ज्वाइन कर ली. उन्होंने कहा कि जब रिपोर्ट का मालूम हुआ तो एक बार चिंता तो हुई लेकिन बाद में उन्होंने कोरोनाा से लड़ाई लड़ी और आज वह अपनी ड्यूूूटी पर हैं और बिल्कुुुल ठीक हैं.
महिला थाना प्रभारी सीमा सोढी का कहना है कि संक्रमित होने पर ऑक्सीमीटर अपने पास रखा और हर दिन ऑक्सीजन लेवल चेक करते रहे. साथ ही गर्म पानी पिया, ठंडी वस्तुओं का सेवन नहीं किया. घर का कामकाज निपटाकर पुस्तकें पढ़ती रहीं. इस बीमारी में घबराने की जरूरत नहीं है. बल्कि आत्मविश्वास और तनाव रहित रहकर कोरोना को मात दी जा सकती है. संक्रमण से बचने के लिए मास्क लगाएं और दो गज की दूरी रखें.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज