लाइव टीवी

सिरसा : हनीप्रीत के जेल से रिहा होने के बाद डेरा में गतिविधियां बढ़ी

Nakul Jasuja | News18 Haryana
Updated: November 8, 2019, 5:48 PM IST
सिरसा : हनीप्रीत के जेल से रिहा होने के बाद डेरा में गतिविधियां बढ़ी
12 नवम्बर को डेरा सच्चा सौदा के संस्थापक शाह मस्ताना महाराज का अवतार दिवस मनाया जाएगा

डेरा चीफ की राजदार एवं खास हनीप्रीत (Honeypreet) की जमानत पर जेल से रिहा होने के बाद डेरा में गतिविधियों (Activities in Dera) ने जोर पकड़ लिया है. शुक्रवार भी दिनभर हनीप्रीत ने डेरा की मैनेजमेंट कमेटी (Management Committee of Dera), कानूनी विशेषज्ञों के अलावा डेरा के विभिन्न पदाधिकारियों के साथ बातचीत की.

  • Share this:
सिरसा. डेरा चीफ की राजदार एवं खास हनीप्रीत (Honeypreet) की जमानत पर जेल से रिहा होने के बाद डेरा में गतिविधियों (Activities in Dera) ने जोर पकड़ लिया है. शुक्रवार भी दिनभर हनीप्रीत डेरा प्रमुख की गुफा के बगल में बने मकान में रुकी रही. इस दौरान हनीप्रीत ने डेरा की मैनेजमेंट कमेटी (Management Committee of Dera), कानूनी विशेषज्ञों के अलावा डेरा के विभिन्न पदाधिकारियों के साथ बातचीत की. इस दौरान 12 नवम्बर को डेरा सच्चा सौदा के संस्थापक शाह मस्ताना महाराज (Shah Mastana Maharaj) के अवतार दिवस (Avtar Divas) पर प्रस्तावित भंडारे को लेकर रणनीति तैयार की गई. हनीप्रीत की रिहाई के महज पांच दिन बाद ही 12 नवम्बर को होने वाले इस महत्वपूर्ण कार्यक्रम पर मीडिया, डेरा अनुयायियों, डेरा प्रमुख के पारिवारिक सदस्यों सहित डेरा के तमाम पदाधिकारियों की टकटकी लगी है. इस कार्यक्रम से ही हनीप्रीत की डेरा को लेकर भविष्य में रहने वाली भूमिका भी साफ हो जाएगी.

डेरा में नवम्बर अवतार माह के रूप में मनाया जाता है

डेरा सच्चा सौदा के प्रथम गुरु शाह मस्ताना महाराज ने 29 अप्रैल 1948 को सिरसा में डेरा सच्चा सौदा की स्थापना की थी. ब्रिटिश शासनकाल के दौरान 15 नवम्बर को शाह मस्ताना का जन्म हुआ था. इसीलिए डेरा में नवम्बर माह अवतार माह के रूप में मनाया जाता है. इस बार यह कार्यक्रम 12 नवम्बर को होना
है. इस दिन स्वास्थ्य जांच कैंप एवं रक्तदान शिविर लगाया जाएगा. सत्संग का आयोजन किया जाएगा. इस बार का कार्यक्रम इसलिए महत्वपूर्ण है कि डेरा चीफ जेल में है और अब उनकी खास राजदार हनीप्रीत जेल से बाहर आ चुकी हैं.

हनीप्रीत महत्वपूर्ण जिम्मेदारी संभाल सकती हैं

सूत्रों के अनुसार हनीप्रीत इस कार्यक्रम में प्रमुख रूप से शिरकत करेंगी. यह देखना दिलचस्प होगा कि इस भंडारे में डेरा प्रमुख के पारिवारिक सदस्य शिरकत करते हैं या नहीं. इस कार्यक्रम की तैयारियां जोर-शोर से चल रही हैं. जिस तरह से पिछले दो दिन में हनीप्रीत ने प्रभावी भूमिका निभाई है, उससे कयास लगाए जा रहे हैं कि हनीप्रीत इस कार्यक्रम में महत्वपूर्ण जिम्मेदारी संभाल सकती हैं.

हनीप्रीत के जेल से रिहा होने के बाद डेरा में स्थित बाबा के सात अजूबों जिनमें एफिल टॉवर, ताजमहल आदि भवन बने हैं भी आम अनुयायियों के लिए खोल दिए गए हैं.

Loading...

हनीप्रीत लगातार बैठकें कर रही हैं

डेरा के सत्संग हॉल के पीछे वाली साइड में एक महत्वपूर्ण भवन है. इस भवन का नाम है एडमिनिस्ट्रेशन ब्लॉक है. इस भवन में बैठने वाले ओहदेदारों की ओर से ही डेरा की गतिविधियां चलाई जाती हैं. विपसना चेयरपर्सन हैं तो शोभा इन्सां वाइस चेयरपर्सन. न्यूज़ 18 ने इस भवन में दस्तक दी. रिस्पेशन चेयर पर एक
महिला बैठी थी और भवन में बनी कैंटीन में एक कर्मचारी ड्यूटी पर था. इसके अलावा पूरा ब्लॉक खाली था. सूत्रों की मानें तो हनीप्रीत पिछले दो दिनों से एडमिनस्ट्रेशन ब्लॉक के ओहदेदारों के अलावा डेरे की दूसरी विंग के पदाधिकरियों संग लगातार बैठकें कर रही हैं.

हनीप्रीत के जेल से रिहा होने के बाद डेरा में स्थित बाबा के सात अजूबों जिनमें एफिल टॉवर, ताजमहल आदि भवन बने हैं भी आम अनुयायियों के लिए खोल दिए गए हैं. इसके अलावा डेरा में बने थ्री स्टार रेस्तरां एवं शिपनुमा रेस्तरां को भी खोल दिया गया है. इस रेस्तरां में प्रवेश शुल्क प्रत्येक व्यक्ति के लिए 50 रुपए निर्धारित की गई है. चार मंजिला यह शिपनुमा रेस्तरां काफी ऊंचा है और इसके ऊपरी तल से डेरे का विहंगम दृश्य नजर आता है.

ये भी पढ़ें - सरकारी कर्मचारियों की 10वीं और 12वीं की मार्कशीट की जांच करेगी हरियाणा सरकार

ये भी पढ़ें - प्रियंका तनेजा के 'हनीप्रीत' और राम रहीम की 'राजदार' बनने की कहानी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए सिरसा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 8, 2019, 5:40 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...