सोनीपत: दूध के कंटेनर में छिपाकर ले जा रहे थे अवैध शराब की 790 पेटियां, दिल्ली करनी थी सप्लाई
Sonipat News in Hindi

सोनीपत: दूध के कंटेनर में छिपाकर ले जा रहे थे अवैध शराब की 790 पेटियां, दिल्ली करनी थी सप्लाई
पुलिस नेे पकड़ी शराब की पेटियां

पुलिस (Police) ने चालक व क्लीनर से जब कंटेनर की चाबी मांगी तो उन्होंने चाबी उनके पास होने से मना कर दिया. कंटेनर में शराब (Alcohol) होने के शक के चलते आबकारी निरीक्षक अशोक कुमार का मौके पर बुलाया गया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 11, 2020, 1:57 PM IST
  • Share this:
सोनीपत. जिले के खरखौदा हलका एक बार फिर सुर्खियों में है. लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान खरखौदा में शराब घोटाला हुआ था जिसकी जांच में पूरी नहीं हुई है और यहां पर शराब तस्कर (Alcohol Smugglers) फिर से  सक्रिय हो गए हैं. अब सैदपुर चौक पर नाकाबंदी कर पुलिस ने दूध के कंटेनर में छिपाकर ले जाई जा रही अवैध शराब की 790 पेटियां बरामद की हैं. पुलिस ने सैदपुर चौकी के बाहर नाकाबंदी कर शराब को पकड़ा और उसे कंटेनर से उतारने के दौरान वीडियोग्राफी भी कराई. पुलिस ने चालक और क्लीनर के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस मामले में शराब के मालिक व संबंधित डिस्टलरी की भूमिका की भी जांच करेगी.

बता दें कि पुलिस सैदपुर चौक पर नाकाबंदी कर वाहनों की जांच कर रही थी. इसी बीच सूचना मिली कि अमूल दूध का स्टिकर लगे कंटेनर में बहादुरगढ़ की तरफ से शराब भरकर सैदपुर की तरफ लाई जा रही है. जिस पर पुलिस टीम ने निगरानी बढ़ा दी. इसी बीच एक कंटेनर आता दिखाई दिया, जिसकी नंबर प्लेट के नंबर को स्क्रेच किया गया था. शक के आधार पर पुलिस द्वारा उसे रोका गया.

पुलिस ने कंटेनर का ताला तोड़ा



पुलिस ने चालक व क्लीनर से जब कंटेनर की चाबी मांगी तो उन्होंने चाबी उनके पास होने से मना कर दिया. कंटेनर में शराब होने के शक के चलते आबकारी निरीक्षक अशोक कुमार का मौके पर बुलाया गया. उनके सामने कंटेनर के ताले तोड़े गए और वीडियोग्राफी कराते हुए तलाशी ली गई. कंटेनर के अंदर अलग-अलग मार्का की 790 पेटी अवैध शराब बरामद की गई, जिसमें करीब 200 पेटी अंग्रेजी शराब थी.
दिल्ली ले जाई जा रही थी शराब

पुलिस ने चालक राजस्थान के जिला अलवर के गांव पतलिया निवासी नरेश कुमार व क्लीनर अलवर के हरसौली निवासी कालूराम को गिरफ्तार कर लिया. पुलिस मामले में शराब मालिक व संबंधित डिस्टलरी की भूमिका का पता लगाएगी. पुलिस से बचने के लिए कंटेनर पर आवश्यक वस्तु सेवा का स्टीकर लगा था. साथ ही अमूल दूध का स्टीकर लगाया गया था. कंटेनर के आगे लिखे नंबरों में से आखिरी नंबर को स्क्रेच कर मिटाया गया था. शराब झज्जर व अंबाला डिस्टलरी की मिली है. पुलिस ने मामले में भादसं की धारा 420, 483, 34, 61-1-14 एक्साइज एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है. आरोपियों ने शुरुआती पूछताछ में बताया है कि शराब को बहादुरगढ़ से लेकर आए थे और दिल्ली के पंजाब बाग में लेकर जाना था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज