होम /न्यूज /हरियाणा /सोनीपत के 8 वर्षीय मार्टिन मलिक ने तोड़ा रूस का विश्व रिकॉर्ड, 3 मिनट में मारे 1105 पंच, कई रिकॉर्ड कायम

सोनीपत के 8 वर्षीय मार्टिन मलिक ने तोड़ा रूस का विश्व रिकॉर्ड, 3 मिनट में मारे 1105 पंच, कई रिकॉर्ड कायम

सोनीपत के सेक्टर 23 में रहने वाले महज 8 साल के मार्टिन मलिक ने विश्व स्तर पर नाम रोशन किया है.

सोनीपत के सेक्टर 23 में रहने वाले महज 8 साल के मार्टिन मलिक ने विश्व स्तर पर नाम रोशन किया है.

Martin malik world record: सोनीपत के सेक्टर- 23 में रहने वाले महज 8 साल के मार्टिन मलिक ने विश्व स्तर पर नाम रोशन किया ...अधिक पढ़ें

सोनीपत. सोनीपत के सेक्टर- 23 में रहने वाले महज 8 साल के मार्टिन मलिक ने विश्व स्तर पर नाम रोशन किया है. तीसरी कक्षा में पढ़ने वाले मार्टिन मलिक ने 12 विश्व रिकॉर्ड और तीन एशिया रिकॉर्ड अपने नाम कर सभी का दिल जीत लिया है. मार्टिन मलिक ने लॉकडाउन के दौरान ढ़ाई साल पहले घर पर ही प्रैक्टिस शुरू की थी और अब भारत और एशिया ही नहीं बल्कि वर्ल्ड रिकॉर्ड तोड़ कर किक बॉक्सिंग में नया इतिहास बना दिया है.

छोटा बच्चा समझ कर लड़ ना जाना रे… यह पहले छोटे बच्चे कहते नजर आते थे, लेकिन सोनीपत के एक छोटे से गांव बिंधल फिलहाल सोनीपत सेक्टर- 23 निवासी मार्टिन मलिक ने यह साबित कर दिया है कि बच्चे सब कुछ कर सकते हैं. कोरोना महामारी में जब ढ़ाई साल पहले पहला लॉकडाउन लगा जिस दौरान किसी को कुछ समझ नहीं आ रहा था कि कौन क्या करें. उसी समय तीसरी कक्षा का विद्यार्थी और महज 8 साल के मार्टिन मलिक अपने पिता की सहायता से किक बॉक्सिंग के किंग बन गए हैं. महज 8 साल की आयु में ही मार्टिन मलिक ने रूस के पावेल के विश्व रिकॉर्ड को तोड़ दिया है. इतना ही नहीं मार्टिन मलिक ने भारत के दो, एशिया के दो और इसी के साथ ही किक बॉक्सिंग में विश्व स्तर पर 12  रिकॉर्ड अपने नाम कर लिए हैं.

ओलंपिक गोल्ड मेडलिस्ट नीरज चोपड़ा भी मार्टिन मलिक के फैन
किक बॉक्सिंग की बात करें तो अभी तक पंचिंग बेड पर 3 मिनट में 918 पंच करने का विश्व रिकॉर्ड 27 वर्षीय रसिया के पावेल के नाम था, लेकिन महज 8 साल की आयु में ही मार्टिन मलिक ने 3 मिनट में 1105 पंचिंग बैग पर मार कर इस विश्व रिकॉर्ड को अपने नाम कर लिया है. मार्टिन मलिक की प्रतिभा से खुश होकर ओलंपिक गोल्ड मेडलिस्ट नीरज चोपड़ा ने भी मार्टिन मलिक को डिनर पर बुलाया था और उसके साथ पंच की प्रैक्टिस भी करवाई थी.

मां ने कहा- पढ़ाई में औसत है, लेकिन पंचिंग में है कमाल
मार्टिन की मां सविता मलिक ने बताया कि लॉकडाउन के दौरान मार्टिन छोटे बच्चों के पंचिंग पर बॉक्सिंग करता था, उन्हें बिलकुल फाड़ देता था, लेकिन लॉकडाउन के दौरान इसके पापा इसके लिए बड़ा बैग लाए और इसने शुरुआत में ही कई रिकॉर्ड बना डाले. हमें अपने बेटे पर गर्व है, क्योंकि हमें इसके नाम से पहचाना जाता है. हालांकि ये पढाई में औसत है.

3 मिनट में पंचिंग बैग पर 1100 पंच कर विश्व रिकॉर्ड है मार्टिन के नाम
वहीं मार्टिन मलिक ने कहा कि लॉकडाउन के दौरान उनके पिता फिटनेस ट्रेनिंग कर आते थे और जिसके बाद उन्होंने घर पर ही किक बॉक्सिंग शुरू की थी. उसके बाद वह घर पर ही किक बॉक्सिंग की प्रैक्टिस करता था. उसने 3 मिनट में पंचिंग बैग पर 1100 पंच कर विश्व रिकॉर्ड बनाया है. मार्टिन मलिक ने रसिया के पावेल का जो रिकॉर्ड था 3 मिनट में 918 पंच करने का उसे तोड़ दिया है.

Tags: Haryana news, Martin malik, Sonipat news, World record

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें