vidhan sabha election 2017

सिंहपुरा में रामपाल दास के आश्रम पर चला पीला पंजा

ETV Haryana/HP
Updated: December 8, 2017, 4:24 PM IST
सिंहपुरा में रामपाल दास के आश्रम पर चला पीला पंजा
संत रामपाल
ETV Haryana/HP
Updated: December 8, 2017, 4:24 PM IST
प्रशासन व टाउन प्लानिंग डिपार्टमेंट की टीम ने रोहतक के सिंहपुरा में चल रहे रामपाल दास के अस्थाई आश्रम को गिरा दिया है. इससे रामपाल के अनुयायियों में रोष है. रामपाल के अनुयायियों का आरोप है कि सरकार ने आर्यसमाजियों के दबाव में यह कार्रवाई की है. वहीं, आर्य समाजियों ने रामपाल के आश्रमों के विरोध में सीएम के नाम डीसी को ज्ञापन सौंपा.

प्रशासन द्वारा तोड़ा गया अस्थाई आश्रम.


रोहतक के सिंहपुरा गांव में काफी समय से विवादित संत रामपाल दास का अस्थाई आश्रम चल रहा था। इस आश्रम को रामपाल के अनुयायियों की ओर से संचालित किया जा रहा था. टाउन प्लानिंग डिपार्टमेंट की ओर से आश्रम के संचालकों को नोटिस दिया गया था, जिसमें अवैध निर्माण को गिराने की बात कही गई थी.

शुक्रवार सुबह करीब 8 बजे टाउन प्लानिंग डिपार्टमेंट का अमला सिंहपुरा पहुंचा. इस दौरान भारी पुलिस बल भी साथ था. प्रशासनिक अधिकारियों ने एक-एक कर रामपाल के अनुयायियों को वहां से बाहर निकाला. फिर वहां रखा सामान भी हटा दिया.

प्रशासन ने रामपाल के अनुयायियों को हिरासत में भी ले लिया. इसके बाद रामपाल के अस्थाई आश्रम को गिरा दिया गया. इस कार्रवाई से रामपाल के अनुयायियों में रोष है. उन्होंने सरकार व प्रशासन पर आर्य समाजियों के दबाव में कार्रवाई करने का आरोप लगाया.

सिंहपुरा में रामपाल के आश्रम को गिराने के बाद आर्य समाजियों के एक प्रतिनिधिमंडल ने रोहतक के डीसी यश गर्ग से मुलाकात की और सीएम मनोहर लाल खट्टर के नाम एक ज्ञापन सौंपा. समस्त आर्य समाज हरियाणा व गौशाला संघ हरियाणा के बैनर तले सौंपे गए इस ज्ञापन में मांग की गई है कि रामपाल के बाकी आश्रमों के खिलाफ भी कार्रवाई की जाए.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर