होम /न्यूज /हरियाणा /

सोनीपतः चिटफंड मामले में लगी करोड़ों की चपत, आरोपी दर्शना की गिरफ्तारी न होने पर भड़के पीड़ित

सोनीपतः चिटफंड मामले में लगी करोड़ों की चपत, आरोपी दर्शना की गिरफ्तारी न होने पर भड़के पीड़ित

चिटफंड मामले में आरोपी के खिलाफ एफआईआर दर्ज होने के बाद भी गिरफ्तारी नहीं होने से पीड़ितों में गुस्सा है.

चिटफंड मामले में आरोपी के खिलाफ एफआईआर दर्ज होने के बाद भी गिरफ्तारी नहीं होने से पीड़ितों में गुस्सा है.

Sonipat chit fund case: सोनीपत में करोड़ों रुपए के चिटफंड मामले में आरोपी के खिलाफ एफआईआर दर्ज होने के बाद भी गिरफ्तारी नहीं होने से पीड़ितों में गुस्सा है. पीड़ितों इस मामले में धरना दिया है. इस दौरान कहा कि पुलिस इस मामले में कार्रवाई नहीं कर रही है.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

रिश्तेदारों को पता है दर्शना कहां है, फिर पुलिस क्यों नहीं कर रही गिरफ्तार?
बेटे का कनाडा में है ठिकाना, 50 लोगों से लिए 5 करोड़

सोनीपत. सोनीपत में करोड़ों रुपए के चिटफंड मामले में आरोपी के खिलाफ एफआईआर दर्ज होने के बाद भी गिरफ्तारी नहीं होने से पीड़ितों में गुस्सा है. पीड़ितों का आरोप है कि पुलिस मामला दर्ज होने के बाद भी कार्रवाई नहीं कर रही है. इसको लेकर लघु सचिवालय में पीड़ितों ने धरना दिया है. इस दौरान धरना पर बैठे लोगों की चौकी प्रभारी के साथ तू- तू मैं-मैं देखने को मिली.

सोनीपत के शास्त्री कॉलोनी से करोड़ों रुपए का चिटफंड मामला सामने आया था. जिसके बाद शिकायत के आधार पर पुलिस ने शास्त्री कॉलोनी निवासी दर्शना के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया था, लेकिन मामले में अभी तक गिरफ्तारी न होने के कारण पीड़ितों ने पुलिस पर लापरवाही के आरोप लगाए हैं. लघु सचिवालय में धरना देकर जल्द गिरफ्तारी की मांग की है. वहीं पुलिस का कहना है कि जल्द ही आरोपी को गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

विदेश भेजने के नाम पर लोगों से लिए करोड़ों रुपये, पुलिस नहीं ले रही एक्शन
आपको बता दें कि शास्त्री कॉलोनी में लगभग 50 लोगों के साथ करोड़ों रुपए के चिटफंड का मामला सामने आया था जिसके बाद शास्त्री कॉलोनी वासियों ने दर्शना नाम की एक महिला पर आरोप लगाया था कि किसी को विदेश भेजने के नाम पर तो किसी को कमेटी के नाम पर करोड़ों रुपए लिए गए हैं. पुलिस को शिकायत दी थी जिसके बाद पुलिस ने दर्शना के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली थी. गिरफ्तारी न होने के बाद शास्त्री कॉलोनी वासी लघु सचिवालय पहुंचे और लघु सचिवालय में धरने पर बैठ गए.

रिश्तेदारों को पता है दर्शना कहां है, फिर पुलिस क्यों नहीं कर रही गिरफ्तार?
आरोप है कि पुलिस जानबूझकर दर्शना को गिरफ्तार नहीं कर रही है. कल उसके रिश्तेदार सामान लेने के लिए उसके घर पर आए थे और उन्हें पता है कि दर्शना कहां है, लेकिन पुलिस दर्शना को गिरफ्तार नहीं कर रही.

बेटे का कनाडा में है ठिकाना, 50 लोगों से लिए 5 करोड़
पीड़ितों का आरोप है कि दर्शना का बेटा कनाडा में है और कुछ लोगों से उसने कनाडा भेजने के नाम पर पैसे लिए हैं. कुछ जगह की वह एडमिन भी थी जो लोन लेने का काम करती थी. सभी के कागजात उसी के पास थे और उसने 50 लोगों से ज्यादा लोगों से 5 करोड़ के करीब पैसे लिए हैं.

Tags: Haryana news, Sonipat news

अगली ख़बर