झज्जर-सोनीपत में मतगणना केंद्र पर हंगामे के बाद कांग्रेस विधायक EVM के बने पहरेदार

मोहाना में मतगणना केंद्र के बाहर गाड़ियों की चैकिंग करते हुए कांग्रेस व अन्य पार्टियों के कार्यकर्ता

झज्जर और सोनीपत में मतगणना केंद्र में मंगलवार की रात को हंगामे के बाद ईवीएम की सुरक्षा के लिए कांग्रेस के विधायकों ने खुद ही मोर्चा ले लिया है.

  • Share this:
सोनीपत. हरियाणा में 21 अक्टूबर को हुए विधानसभा चुनाव (Haryana Assembly Election 2019) के मतदान के बाद सभी ईवीएम (EVM) मशीनें मतगणना के काउंटिंग सेंटर (Voting Counting Centre) में रखी जा चुकी हैं. सबसे पहले हरियाणा के झज्जर और फिर बीती देर रात को सोनीपत में हंगामा हुआ और प्रशासन पर सुरक्षा में कोताही बरतने के आरोप लगे. वहीं अब कांग्रेसी (Congress) कार्यकर्ताओं को पुलिस प्रशासन और अधिकारियों पर विश्वास नहीं रहा है और सोनीपत के गांव मोहाना में स्थित बिट्स कॉलेज में खुद पहरेदारी दे रहे हैं. आपको बता दें कि सोनीपत से विधानसभाओं के ईवीएम मशीन बिट्स कॉलेज में रखी गई है. वहीं यहां पर पुलिस और पैरा मिलिट्री फोर्स की तैनाती की गई है, लेकिन उसके बावजूद भी कार्यकर्ता खुद वहां पहरेदारी दे रहे हैं.

गड़बड़ी की आशंका के चलते कांगेस के चारों विधायक मोहाना पहुंचे

सोनीपत के गांव मोहाना के बिट्स संस्थान में बनाये गए मतगणना केंद्रों पर गड़बड़ी की आशंका के चलते कांगेस के चारों विधायक मोहाना पहुंच गए. वहां उनके समर्थकों ने जमकर हंगामा किया. उनका आरोप था कि कई जगह से मतगणना केंद्रों पर गड़बड़ी कराने की सूचना आ रही है, जिसके चलते वह यहां आए हैं. उन्होंने कहा कि किसी तरह की गड़बड़ नहीं होने दी जाएगी. मंगलवार की देर रात गोहाना से कांग्रेस के निवर्तमान विधायक जगबीर मलिक, बरोदा से श्रीकृष्ण हुड्डा, खरखोदा से जयवीर सिंह और राई से जयतीर्थ दहिया मोहाना मतगणना बूथ पर पहुंच गए.



मतदाता केंद्र के अंदर और बाहर जाने वाली गाड़ियों की ले रहे हैं तलाशी

वीडियो में मोहाना गांव में स्थित बिरसा कॉलेज के सामने की तस्वीर आप देख सकते हैं कि टेंट लगा दिए गए हैं. आप वीडियो में वहां कुछ लोगों को बैठे हुए देख सकते हैं. कॉलेज के कांग्रेस और अन्य पार्टियों के कार्यकर्ता जमे हुए हैं. इनमें सबसे ज्यादातर कांग्रेस के कार्यकर्ता हैं. आप देख सकते हैं कि वे काउंटिग सेंटर के अंदर आने-जाने वाली गाड़ियों की तलाशी भी ले रहे हैं.

प्रशासन पर भरोसा है, लेकिन सरकार पर नहीं है

आपको बता दें कि झज्जर और सोनीपत में हंगामा होने के बाद से पार्टियों के कार्यकर्ता यहां खुद पहरेदारी दे रहे हैं. कांग्रेसी कार्यकर्ता जितेंद्र का कहना है कि  कार्यकर्ताओं के अनुसार उन्हें प्रशासन पर भरोसा है, लेकिन सरकार पर नहीं है.

Security
कांग्रेसी कार्यकर्ता जितेंद्र का कहना है कि हम खुद गाड़ियों की चैकिंग कर रहे हैं और जब तक काउंटिंग शुरू नहीं होती है तब तक वह खुद यहां पर पहरेदारी देंगे.


जितेंद्र का कहना है कि  बीजेपी कुछ भी करवा सकती है. यही वजह है कि वह खुद गाड़ियों की चैकिंग कर रहे हैं और जब तक काउंटिंग शुरू नहीं होती है तब तक वह खुद यहां पर पहरेदारी देंगे.

यह भी पढ़ें: राजुकमार सैनी को आय़ा धमकी भरा फोन, कहा- गोहाना छोड़ दो, नहीं तो...

रणदीप सुरजेवाला के पूर्व PA के भाई को बदमाशों ने मारी गोली, अस्पताल में भर्ती

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.