CRPF भर्ती घोटाला: चार मुन्ना भाई गिरफ्तार और 413 के खिलाफ कार्रवाई शुरू

Nitin Antil | News18 Haryana
Updated: September 3, 2019, 5:30 PM IST
CRPF भर्ती घोटाला: चार मुन्ना भाई गिरफ्तार और 413 के खिलाफ कार्रवाई शुरू
सीआरपीएफ में सिपाही पद के लिए भर्ती के लिए फिजिकल टेस्ट के दौरान चार युवक को गिरफ्तार किया गया है.

सोनीपत के खेवडा कैंप (Khewda camp) में सीआरपीएफ (CRPF) की भर्ती प्रक्रिया में चार युवक गिरफ्तार हो चुके हैं. 413 लोगों के खिलाफ कार्रवाई शुरू हो चुकी है.

  • Share this:
सोनीपत. सीआरपीएफ (CRPF) के कॉन्स्टेबल भर्ती (Constable job) में और बड़ा फर्जीवाड़ा  (Fraud) होने की आशंका है. सोनीपत (Sonipat) के खेवडा कैंप (Khewda camp) में 28 अगस्त को सिपाही के फिजिकल टेस्ट (Physical test) के दौरान फर्जीवाड़ा हुआ. सीआरपीएफ के आला अधिकारियों ने चार युवकों (Four Youths) को मौके पर पकड़ा और सोनीपत के राई थाने में इसकी सूचना दे दी. पुलिस ने चारों आरोपियों को गिरफ्तार (Arrested) कर लिया. अब सीआरपीएफ ने पुलिस को 413 परीक्षार्थियों के खिलाफ जांच कराने की शिकायत दी है. शिकायत में यह कहा गया है कि असली परीक्षार्थी की जगह नकली परीक्षार्थी लिखित परीक्षा देने पहुंच गए. बायोमीट्रिक मशीन (Biometric Machine) में जब अंगूठे के निशान नहीं मिले तब समझ में आया कि भर्ती परीक्षा में बड़े पैमाने पर खेल हुआ है. पहले गिरफ्तार किए जा चुके चारों आरोपियों की रिमांड (Police Remand) मंगलवार को पूरी हुई और पुलिस ने आज उन्हें कोर्ट में पेश किया गया. पुलिस ने अब 413 परीक्षार्थियों के खिलाफ जांच शुरू कर दी है.

फिजिकल टेस्ट के दौरान चार युवक पकड़े गए

आपको बता दें कि 28 अगस्त को सोनीपत के खेवडा सीआरपीएफ कैंप में कॉन्स्टेबल पद के लिए फिजिकल टेस्ट होना था और उस दरम्यान इन चार युवकों के फोटो और अंगूठे के निशान मेल नहीं खा रहे थे. चारों आरोपी युवकों को पुलिस ने गिरफ्तार किया और उनसे पूछताछ की. पूछताछ के दौरान पता चला कि लिखित परीक्षा इन चारों ने किसी और से दिलवाई थी.

पुलिस में 413 के खिलाफ लिखित परीक्षा में फर्जीवाड़ा करने की शिकायत

R K Gupta-आरके गुप्ता
सीआरपीएफ के कमांडेंट आरके गुप्ता ने बताया कि करीब 400 के और युवकों के नाम सामने आए हैं. पुलिस को हमने इसकी शिकायत दे दी है.


पुलिस ने आरोपियों को कोर्ट में पेश कर 6 दिन की रिमांड पर लिया था ताकि अन्य आरोपियों को भी गिरफ्तार किया जा सके. गिरफ्तार आरोपी अनिल कुमार जिला चरखी-दादरी, सचिंद्र रावल जिला पानीपत, सुरेश जिला भिवानी और योगेश जिला चरखी दादरी का रहने वाला है. पुलिस का कहना है कि सीआरपीएफ के अधिकारियों द्वारा 413 और युवकों के खिलाफ शिकायत की गई है, जिसकी जांच भी की जा रही है.

Loading...

13-27 अगस्त तक चली भर्ती की प्रक्रिया

कमांडेंट आरके गुप्ता ने बताया कि 13-27 अगस्त तक बोर्ड द्वारा भर्ती की प्रक्रिया चलाई गई थी. उन्होंने कहा कि फिजिकल टेस्ट देने के लिए पहुंचे युवकों में चार लोगों पर फोटो और बायोमेट्रिक में अंगूठे के निशान मेल नहीं खाने से आशंका पैदा हुई. इसके बाद हमने मामला सोनीपत पुलिस को सौंप दिया गया. पुलिस जांच कर रही है और करीब 400 के करीब और भी युवकों के नाम सामने आए हैं. कमांडेंट आर के गुप्ता ने कहा कि इस मामले में अभी हम कह नहीं सकते कि बाहर का अधिकारी या कोई हमारा कर्मचारी भी इस धंधरी में शामिल हो सकता है.

सोनीपत के डीएसपी हरेंद्र कुमार ने बताया कि सीआरपीएफ के अधिकारियों ने हमें शिकायत दी है और हम इस मामले की जांच कर रहे हैं. हम इस बारे में जल्द ही खुलासा करेंगे.

यह भी पढ़ें: गेस्ट टीचरों ने खून से लिखा पीएम मोदी को खत, कहा-हमें जल्दी पक्का करो

 जजपा के नेता दिग्विजय चौटाला ने कहा, हरियाणा के सीएम अहंकार के नशे में चूर हैं

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए सोनीपत से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 3, 2019, 5:19 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...