Home /News /haryana /

सोनीपत: कार में नाइट्रोजन गैस का सिलेंडर खोलकर इंजीनियर ने की आत्महत्या, मरने से पहले पिता को भेजा ई-मेल

सोनीपत: कार में नाइट्रोजन गैस का सिलेंडर खोलकर इंजीनियर ने की आत्महत्या, मरने से पहले पिता को भेजा ई-मेल

सोनीपत में इंजीनियर ने की आत्महत्या

सोनीपत में इंजीनियर ने की आत्महत्या

Engineer Commit Suicide: पुलिस ने मृतक इंजीनियर के शव का पोस्टमार्टम कराकर परिजनों को सौंप दिया है. मौत का कारण स्पष्ट नहीं होने पर विसरा जांच के लिए भेजा गया है. संचित ने अपने पिता को ई-मेल भेजकर आत्महत्या करने की बात स्वीकार की है. वह काफी समय से मानसिक तनाव में था. परिवार के लोगों ने उसके तनाव में होने की पुष्टि की है.

अधिक पढ़ें ...

    सोनीपत. हरियाणा के सोनीपत जिले में एक इंजीनियर द्वारा आत्महत्या (Engineer Commit Suicide) करने का मामला सामने आया है. इंजीनियर का शव (Dead Body) उसकी कार में मिला है. इंजीनियर अपने दोस्त से मिलने गया था. कुंडली थाना पुलिस को जीटी रोड के पास कार खड़ी मिली थी. कार में नाइट्रोजन गैस का सिलेंडर भी रखा था, जो खुला हुआ था. इंजीनियर ने अपने पिता को ई-मेल भेजकर आत्महत्या करने की बात कही है. उसकी मौत नाइट्रोजन गैस से दम घुटने के कारण हो सकती है. पुलिस ने पोस्टमार्टम कराकर शव स्वजन को सौंप दिया है. पोस्टमार्टम में मौत का कारण स्पष्ट नहीं हो सका है. विसरा जांच के लिए भेजा गया है.

    मृतक के पिता भारतभूषण रल्हन ने पुलिस को बताया कि उनके 25 वर्षीय बेटे संचित रल्हन ने इंजीनियरिंग की थी. अभी उसकी नौकरी नहीं लगी थी. उसके पैर में चोट लग गई थी और उस पर प्लास्टर लगा हुआ था. संचित रल्हन अपने दोस्त से मिलने की बात कहकर घर से गया था. वह अपनी सेंट्रो कार लेकर गया था. काफी देर तक वापस नहीं आने पर स्वजनों ने उससे संपर्क करने का प्रयास किया, लेकिन कोई पता नहीं लग सका.

    पिता ने बताया कि जब उसे फोन कर रहे थे तो उसका मोबाइल भी स्विच आफ आ रहा था. परिवार के लोग देर रात तक उसकी तलाश करते रहे, लेकिन कुछ पता नहीं लग सका. उसके बाद रात में गीताभवन चौकी पुलिस को शिकायत दी गई. पुलिस ने गुमशुदगी दर्ज कर उसकी तलाश शुरू कर दी.

    पुलिस को सूचना मिली थी कि जीटी रोड के पास सेक्टर-63 में सनशाइन टावर के पास एक सेंट्रो कार लावारिस हालत में खड़ी है. सूचना पर पहुंची पुलिस ने पाया कि युवक की मौत हो चुकी थी। उसकी पहचान इंजीनियर संचित कुमार के रूप में हुई. उसकी कार में नाइट्रोजन गैस का सिलेंडर रखा हुआ था. सिलेंडर खुला हुआ था और कार अंदर से लॉक थी. पुलिस का मानना है कि मौत नाइट्रोजन गैस से दम घुटने के कारण हुई है.

    वहीं संचित ने मरने से पहले अपने पिता को एक ई-मेल किया. उसने ई-मेल में लिखा है कि अपने हालात के कारण वह आत्महत्या कर रहा है. उसकी मौत के लिए कोई अन्य जिम्मेदार नहीं है. आत्महत्या के लिए उसने नाइट्रोजन गैस का सिलेंडर कैपिटल गैस एजेंसी से लिया है. खाली सिलेंडर को एजेंसी पर पहुंचा देना.

    Tags: Haryana police, Mechanical engineer, Suicide

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर