'सरकार करे पराली का इंतजाम, किसान के पास जलाने के अलावा नहीं कोई विकल्प'

धान की पराली जलाने पर रोक लगाए जाने के बाद अब किसान संगठन भी खुलकर सरकार के खिलाफ आ गए हैं. भारतीय किसान यूनियन ने वीरवार को एसडीएम के माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन देकर पराली जलाने पर रोक को हटाने की मांग की.

ETV Haryana/HP
Updated: October 12, 2017, 1:17 PM IST
'सरकार करे पराली का इंतजाम, किसान के पास जलाने के अलावा नहीं कोई विकल्प'
सीएम के नाम ज्ञापन देने जाते भारतीय किसान यूनियन के सदस्य.
ETV Haryana/HP
Updated: October 12, 2017, 1:17 PM IST
धान की पराली जलाने पर रोक लगाए जाने के बाद अब किसान संगठन भी खुलकर सरकार के खिलाफ आ गए हैं. भारतीय किसान यूनियन ने वीरवार को एसडीएम के माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन देकर पराली जलाने पर रोक को हटाने की मांग की.

प्रदेश के अन्दर इन दिनों धान की कटाई चल रही है और इसके बाद गेहूं की बिजाई की जाएगी. इसको लेकर किसान अपने खेतों में धान की पराली को जला रहे हैं, जिससे भारी मात्रा में प्रदूषण फैलता है. सरकार ने इसके जलाने पर रोक लगाने के लिए जुर्माने और सजा का प्रावधान किया है, ताकि कोई किसान पराली को न जलाएं, बल्कि इसका कोई अन्य प्रयोग करे.

इस रोक को हटाने की मांग को लेकर भारतीय किसान यूनियन ने सीएम के नाम ज्ञापन दिया और कहा कि किसान के पास इसे जलाने के अलावा कोई विकल्प नहीं है. अगर सरकार कोई दूसरा समाधान कर सकती है तो ठीक, वरना किसान इसे जलाएंगे.

उन्होंने ये भी कहा कि सरकार सिर्फ किसान पर प्रदूषण फैलाने का आरोप लगा रही है, जबकि खुद सीएम और उसके मंत्री भी कम जिम्मेदार नहीं हैं. दशहरे पर पूरे प्रदेश में रावण दहन किया गया और हर जगह भारी मात्रा में पटाखों से प्रदूषण फैलाया गया. अगर किसान पर जुर्माना लगता है तो सरकार के मंत्रियों पर भी लगना चाहिए.
News18 Hindi पर Jharkhand Board Result और Rajasthan Board Result की ताज़ा खबरे पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें .
IBN Khabar, IBN7 और ETV News अब है News18 Hindi. सबसे सटीक और सबसे तेज़ Hindi News अपडेट्स. Haryana News in Hindi यहां देखें.

और भी देखें

Updated: June 16, 2018 07:41 PM ISTVIDEO: कोल्ड ड्रिंक के बोतल में मिला तंबाकू का पैकेट
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर