पूर्व सीएम भूपेंद्र हुड्डा ने माना, मोदी लहर के चलते हारे लोकसभा चुनाव

हरियाणा के पूर्व सीएम भूपेंद्र हुड्डा ने कहा कि उनको हार से किसी तरह का दुख नहीं है, क्योंकि चुनाव और खेल में हार-जीत चलती रहती है.

News18 Haryana
Updated: June 3, 2019, 11:35 AM IST
पूर्व सीएम भूपेंद्र हुड्डा ने माना, मोदी लहर के चलते हारे लोकसभा चुनाव
भूपेंद्र सिंह हुड्डा
News18 Haryana
Updated: June 3, 2019, 11:35 AM IST
हरियाणा के पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने सोनीपत में कार्यकर्ताओं के साथ बैठक की. हुड्डा ने इस मौके पर कहा कि विधानसभा चुनाव के लिए कार्यकर्ताओ में जोश है. वहीं, उन्होंने कहा कि इस बार लोकसभा चुनाव कुछ अलग था. उन्होंने कार्यकर्ताओं के सामने माना कि इस बार के चुनाव में पूरी तरह से मोदी लहर थी, लेकिन हार के बाद भी कांग्रेस के किसी भी पदाधिकारी और कार्यकर्ता को मायूस होने की जरूरत नहीं है.

दीपेंद्र की हार का बताया ये कारण

हुड्डा ने कहा कि विधानसभा चुनाव में न मोदी की लहर चलेगी और न ही राष्ट्रवाद का मुद्दा काम करेगा. उन्होंने रोहतक लोकसभा सीट से दीपेन्द्र हुड्डा को मिली हार का कारण भी बताया. उन्‍होंने चुनाव के दौरान सरकारी मशीनरी के दुरुपयोग का आरोप लगाया. हुड्डा ने कहा कि सरकार के मंत्री ने सरेआम बूथ कैप्चरिंग की, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई. अगर ऐसा उनके समय में होता तो जरूर कार्रवाई होती.

कार्यकर्ताओं में भरा जोश

पूर्व सीएम भूपेंद्र हुड्डा ने कहा कि उनको हार से किसी तरह का दुख नहीं है, क्योंकि चुनाव और खेल में हार-जीत चलती रहती है. वह कोई राजनीति में नए नहीं आए हैं जो इस तरह की हार से परेशान हो जाएं. कहा कि वह पहले काफी चुनाव देख चुके हैं, लेकिन इस बार मोदी लहर में हर कोई बह गया और चुनाव के नतीजे उम्मीद से उल्टे आए हैं.

ओपी चौटाला के बयान पर दी प्रतिक्रिया

हरियाणा के पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने पूर्व सीएम ओम प्रकाश चौटाला द्वारा सीएम मनोहर लाल खट्टर को लेकर दिए गए आपत्तिजनक बयान पर भी प्रतिक्रिया दी. हुड्डा ने ओपी चौटाला के बयान को अशोभनीय बताते हुए कहा कि इतने बड़े नेता होने के बाद भाषा की मर्यादा का ख्याल रखना चाहिए.
Loading...

ये भी पढ़ें-

रोहतक में पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़, 4 गिरफ्तार

दुकान में शराब पीने से मना किया तो लाठी से पीट-पीट कर मार डाला

फरीदाबाद में चलती कार बनी 'आग का गोला', बाल-बाल बचा परिवार
First published: June 3, 2019, 11:21 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...