गोहाना विधायक मलिक ने सीएम से पिछली घोषणाओं पर मांगा जवाब

गोहाना विधानसभा सीट से कांग्रेस विधायक जगबीर मलिक ने कहा कि 2016 में जब मुख्यमंत्री गोहाना में आए थे, तब उन्‍होंने वेस्टर्न बायपास बनाने की घोषणा की थी, लेकिन उस घोषणा पर आज तक अमल तक नहीं किया गया.

Sunil Jindal | News18 Haryana
Updated: August 12, 2018, 12:10 AM IST
गोहाना विधायक मलिक ने सीएम से पिछली घोषणाओं पर मांगा जवाब
मीडिया से चर्चा करते हुए विधायक जगबीर मलिक.
Sunil Jindal | News18 Haryana
Updated: August 12, 2018, 12:10 AM IST
हरियाणा में सोनीपत जिले में गोहाना की नई सब्जी मंडी में रविवार को होने वाली मुख्‍यमंत्री की किसान धन्यवाद रैली को लेकर स्‍थानीय विधायक ने निशाना साधा है. उन्‍होंने सीएम मनोहर लाल से पिछली घोषणाओं का जवाब मांगा है. साथ ही उन्‍होंने कहा न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य दो सौ रुपए उस धान की किस्‍म पर बढ़ाया गया है, जिसकी खेती मात्र पांच प्रतिशत ही होती है.

गोहाना विधानसभा सीट से कांग्रेस विधायक जगबीर मलिक ने शनिवार को अपने निवास पर एक प्रेस कॉन्‍फ्रेंस का आयोजन किया. इस प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में जगबीर मलिक ने मुख्यमंत्री से सवाल पूछते हुए कहा कि इससे पहले 2016 में जब मुख्यमंत्री गोहाना में आए थे, तब उन्‍होंने वेस्टर्न बायपास बनाने की घोषणा की थी, लेकिन उस घोषणा पर आज तक अमल तक नहीं किया गया. इतना ही नहीं, गोहाना को जिला बनने की मांग पिछले कई सालों से गोहाना निवासी करते आ रहे हैं और खुद मुख्यमंत्री ने वकीलों से वादा किया था कि गोहाना को जल्द जिला बनाया जाएगा, लेकिन एक साल बाद भी मुख्यमंत्री ने गोहाना को जिला बनाने की घोषणा नहीं की.

मलिक ने कहा कि अब पीआर धान का न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य दो सौ रुपए प्रति क्विंटल बढ़ाकर बीजेपी सरकार वाहवाही लूटना चाहती है, लेकिन प्रदेश में पीआर धान पांच प्रतिशत ही होती है, जबकि 95 प्रतिशत खेती दूसरे किस्म के धान की होती है. मलिक ने कहा कि एक तरफ तो किसानों की आय दोगुनी करने का दावा किया जा रहा है, वहीं दूसरी और कृषि क्षेत्र में प्रयोग होने वाले तमाम यंत्र और पेस्टीसाइड पर जीएसटी और तमाम तरह के टैक्स लगाकर किसानों पर दोहरी मार डाली जा रही है.

विधायक जगबीर मलिक ने सरकार से सवाल पूछा कि पिछले साल बाजरे की सात लाख टन से अधिक पैदावार हुई और इस बार गन्ने की बंपर पैदावार हुई, सरकार जवाब दे कि उसने कितना बाजरा और कितना गन्ना खरीदा. विधायक ने दावा किया कि केन्द्र में भाजपा की सरकार बनने के बाद किसानों की आत्महत्या का आंकड़ा बढ़ा है.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर