Assembly Banner 2021

हरियाणा: चंडीगढ़ और जयपुर रूट पर रात्रि बस सेवा शुरू, जानिए किराया और टाइमिंग

गोहाना से चंडीगढ़ और जयपुर के लिए केवल सुबह के समय ही बसें चलती थी, अब रात्रि बस सेवा शुरू कर दी गई है.

गोहाना से चंडीगढ़ और जयपुर के लिए केवल सुबह के समय ही बसें चलती थी, अब रात्रि बस सेवा शुरू कर दी गई है.

Haryana News: हरियाणा के यात्रियों के लिए अच्छी खबर है. चंडीगढ़ और जयपुर रूट पर रात्रि बस सेवा शुरू कर दी गई है. पहले चंडीगढ़ के लिए केवल सुबह के समय ही बसें चलती थी. अब चंडीगढ़ और जयपुर के लिए नए समय पर बसें चलाई हैं. दोनों बसें दोपहर बाद निर्धारित रूट पर रवाना होंगी.

  • Share this:
गोहाना. रोडवेज अधिकारियों ने राजस्व बढ़ाने के लिए लंबे रूटों पर बसों की संख्या बढ़ाना शुरू कर दी है. अधिकारियों ने चंडीगढ़ और जयपुर रूट पर रात्रि बस सेवा शुरू की है. प्रति किलोमीटर 30 रुपये की बुकिंग करने का लक्ष्य रखा गया है. गोहाना सब डिपो के बेड़े में 34 बसें शामिल हैं. इसके अतिरिक्त किलोमीटर सकीम की 20 बसों का संचालन भी बस अड्डा से हो रहा है. इन बसों से विभाग को प्रतिदिन करीब 3.5 लाख रुपये का राजस्व प्राप्त होता है. अधिकारियों के अनुसार बसों के प्रति किलोमीटर संचालन से विभाग को करीब 28.27 रुपये प्राप्त होते हैं. अधिकारियों ने इसे 30 रुपये प्रति किलोमीटर तक पहुंचाने का लक्ष्य रखा है. इसके लिए अधिकारियों ने चंडीगढ़ और जयपुर के लिए दोपहर बाद की बस सेवा शुरू की है. दोनों बसें यात्रियों को रात्रि की सेवा प्रदान करेंगी.

गोहाना बस स्टैंड के हेड कैशियर अशोक खोकर ने बताया जयपुर के लिए गोहाना बस अड्डा से यात्रियों की संख्या कम रहती है. बस में यात्रियों की संख्या कम रहने से राजस्व को भी कम ही प्राप्त होता है. बस में यात्रियों की संख्या बढ़ाने के लिए अधिकारी जयपुर जाने वाली बस को बसअड्डा से पहले पानीपत के लिए भेजेंगे. बसअड्डा से पानीपत के लिए बस सुबह 10:30 बजे चलेगी. पानीपत से 12:30 बजे चलकर दोपहर बाद 1:30 बजे गोहाना पहुंचेगी.

गोहाना से बस रोहतक रेवाड़ी होकर जयपुर के लिए रवाना होगी. वही चंडीगढ़ की बस दोपहर बाद 3:30 बजे बसअड्डा से चलेगी. पहले चंडीगढ़ के लिए केवल सुबह के समय ही बसें चलती थी. विभाग का राजस्व बढ़ाने के लिए चंडीगढ़ और जयपुर के लिए नए समय पर बसें चलाई हैं. दोनों बसें दोपहर बाद निर्धारित रूट पर रवाना होंगी. पहले इन रूटों पर केवल सुबह के समय ही बसें चलती थी. इसके इलावा कुछ लोकल रूटों पर भी बसों की संख्या को बढ़ाया गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज