कृषि विधेयक: गोहाना में किसानों ने किया NH जाम, रोहतक हाइवे डाइवर्ट

आंदोलन कर रहे किसानों ने कहा कि सरकार विधेयक वापस ले नहीं तो 25 सितंबर को भारत बंद कर दिया जाएगा.
आंदोलन कर रहे किसानों ने कहा कि सरकार विधेयक वापस ले नहीं तो 25 सितंबर को भारत बंद कर दिया जाएगा.

आढ़तियों ने गोहाना (Gohana) की अनाज मंडी के गेट पर अनिश्चितकालीन धरना शुरू करते हुए कहा कि सरकार जब तक तीनों विधेयक वापस नहीं लेती उनका धरना जारी रहेगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 20, 2020, 5:46 PM IST
  • Share this:
गोहाना. केंद्र सरकार (central government) द्वारा लागू किए जा रहे थे कृषि विधेयकों (Agricultural bills) के खिलाफ गोहाना (Gohana) में किसानों ने भारतीय किसान यूनियन के बैनर तले रोहतक-पानीपत-चंडीगढ़ नेशनल हाइवे (National highway) 709 ए पर गांव रुखी में जाम लगा दिया. प्रदर्शनकारी किसान सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर रहे थे. यह नेशनल हाइवे रोहतक से गोहाना और पानीपत से चंडीगढ़ को जोड़ता है. जाम के कारण वाहनों की आवाजाही प्रभावित हुई. इस दौरान किसानों ने सरकार पर जबरन तीन विधेयक थोपने का आरोप लगाया और कहा कि जब तक उनकी मांग पूरी नही होती, किसानों का प्रदर्शन जारी रहेगा. गौरतलब है कि केंद्र सरकार की ओर से राज्यसभा में पेश किए गए दोनों विधेयकों कृषक उपज व्यापार और वाणिज्य (संवर्धन और सरलीकरण) विधेयक, 2020 और कृषक (सशक्तीकरण और संरक्षण) कीमत आश्वासन और कृषि सेवा पर करार विधेयक, 2020 को राज्यसभा में ध्वनिमत के साथ पास कर​ दिया गया.

मंडी में बंद रहेगा काम

किसानों के समर्थन में गोहाना अनाज मंडी के आढ़ती भी 18 सितंबर से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर हैं. आढ़तियों ने गोहाना की अनाज मंडी के गेट पर अनिश्चितकालीन धरना शुरू करते हुए कहा कि सरकार जब तक दोनों विधेयक वापस नहीं लेती उनका धरना जारी रहेगा. उन्होंने घोषणा की कि मांगें पूरी न होने तक मंडी में कोई काम नहीं होगा. सरकार विधेयक वापस ले नहीं तो 25 सितंबर को भारत बंद कर दिया जाएगा.



25 सितंबर को संपूर्ण जाम
किसानों की हड़ताल के चलते गोहाना पुलिस प्रशासन अलर्ट नजर आया. गोहाना में पुलिस ने एक्स्ट्रा फोर्स की तैनाती की और हाइवे के रास्ते को भी डाइवर्ट किया गया. वहीं भातरीय किसान यूनियन के प्रदेश के उपप्रधान सत्यवान नरवाल ने कहा कि अब किसान पीछे हटने वाला नहीं है. किसान इन दो विधेयकों को किसी भी कीमत ने लागू नहीं होने देगा. इसके लिए उन्हें पुलिस की लाठियां और गोलियां भी खानी पड़ें तो मंजूर है. लेकिन अब किसान पीछे हटने वाला नहीं है. उन्होंने कहा कि आज गोहाना में रोहतक रोड पर किसान रुखी गांव के पास रोहतक चंड़ीगढ़ हाइवे को तीन घंटे तक जाम रखेंगे और आने वाली 25 तारीख को सम्पूर्ण जाम रहेगा.

डाइवर्ट किया गया रोहतक हाइवे

गोहाना अनाज मंडी के प्रधान राजेंद्र राव ने बताया उनका धरना अनिश्चितकाल के लिए है. सरकार जब तक तीन विधयकों को वापस नहीं लेती तब तक मंडी में कोई काम नहीं होगा. आढ़तियों का कहना है कि ये दो विधयेक काले कानून जैसे हैं. इनके लागू होने से किसान और आढ़ती दोनों बर्बाद हो जाएंगे. वहीं गोहाना के एएसपी उदय सिंह मीणा ने बताया किसानों के जाम के चलते गोहाना में एक्स्ट्रा फोर्स की तैनाती की गई और रोहतक हाइवे को डाइवर्ट कर दिया गया है. किसी को भी कानून अपने हाथ में नहीं लेने दिया जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज