Assembly Banner 2021

Haryana: कुंडली बॉर्डर पर बीमार किसानों की संख्या में इजाफा, प्रशासन में हड़कंप

कुंडली बॉर्डर पर बीमार किसानों की संख्या बढ़ी. (सांकेतिक फोटो)

कुंडली बॉर्डर पर बीमार किसानों की संख्या बढ़ी. (सांकेतिक फोटो)

अमर उजाला की एक खबर के मुताबिक पिछले पांच दिन में बीमार किसानों की संख्या तीन गुना ज्यादा हो गई है. इसमें अधिकतर खांसी, जुकाम और बुखार के मरीज हैं.

  • Share this:
सोनीपत. हरियाणा (Haryana) के सोनीपत में कुंडली बॉर्डर (Kundali Border) पर हालात फिर बिगड़ने लगे हैं. आंदोलन में शामिल बीमार किसानों की तादाद तेजी से बढ़ रही है. अमर उजाला की एक खबर के मुताबिक पिछले पांच दिन में बीमार किसानों की संख्या तीन गुना ज्यादा हो गई है. इसमें अधिकतर खांसी, जुकाम और बुखार के मरीज हैं. इतनी तादाद में मरीज मिलने के बाद प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया है. बताया जा रहा है कि आंदोलन में शामिल किसान कोरोना टेस्ट भी नहीं करवा रहे हैं. किसानों को फिलहाल दवा बांटी जा रही है. फिलहाल 2 हजार से ज्यादा गोलियां बांटी जा रही है. प्राइवेट संस्थान यहां शिविर लगाकर किसानों को उपचार कर रहे हैं. प्रशासन अब किसानों का काउंसिलिंग करेगी.

किसानों का मानना है कि कोरोना जांच करवा कर बॉर्डर से हटाने की कोशिश कर रही है. इसके साथ ही कुंडली बॉर्डर पर वैक्सीन काउंटर भी लगाएगा जिसमें किसानों का टीकाकरण करेगी. बताया जा रहा है कि कुंडली बॉर्डर पर किसानों की जांच के लिए स्वास्थ्य विभाग ने 10 टीमें लगा दी है. ये टीम किसानों की थर्मल स्क्रीनिंग के साथ दवा भी दी जाएगी. कुंडली बॉर्डर धरनास्थल पर तीन महीने पहले रोजाना खांसी, जुकाम और बुखार के करीब 50 मरीज मिल रहे थे. अब अचानक ही किसानों के बीमार होने के आंकड़े ने उछाल मारा है.

रोजाना मिल रहे 100 से ज्यादा मरीज



खबर के मुताबिक, कुंडली बॉर्डर में हर दिन 100 से ज्यादा बीमार किसान मिल रहे हैं. सबसे ज्यादा खांसी. जुकाम और खासी के मरीज मिल रहे हैं. उनकी जांच के लिए पैरासिटामॉल, बी-कॉम्पलेक्स, विटामिन-सी, सिट्राजिन सहित अन्य दवाएं बांट रही है. इसके अलावा आयुष विभाग की ओर से  रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाली दवाएं बांटी रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज