Home /News /haryana /

पाकिस्तानी होने के शक में करणी सेना ने 6 को पकड़ा, पुलिस ने छोड़ा तो किया हंगामा

पाकिस्तानी होने के शक में करणी सेना ने 6 को पकड़ा, पुलिस ने छोड़ा तो किया हंगामा

सोनीपत पुलिस करणी सेना और ग्रामीणों को समझाती हुई.

सोनीपत पुलिस करणी सेना और ग्रामीणों को समझाती हुई.

सोनीपत (Sonipat) के गांव अटेरना में करणी सेना (Karni Sena) के सदस्‍यों ने जिन छह लोगों को पाकिस्तानी (Pakistani) होने के शक में पकड़ा था, पुलिस ने उन्हें पूछताछ के बाद छोड़ दिया.

सोनीपत. हरियाणा के सोनीपत के गांव अटेरना में करणी सेना (Karni Sena) के कार्यकर्ताओं ने जिन 6 लोगों को पाकिस्तानी (Pakistani)  होने के शक में पकड़ा था, उन्हें पुलिस ने पूछताछ के बाद छोड़ दिया. पुलिस जांच में पता लगा कि सभी दिल्ली (Delhi) और पानीपत (Panipat) के रहने वाले हैं, जो धर्म प्रचार के लिए निकले थे. पुलिस की मानें तो इसी के चलते वे लोग रात में गांव अटेरना पहुंचे थे. वह नांगल कलां स्थित धार्मिक स्थल में रुके हुए थे. उनके पास कोई आपत्तिजनक वस्तु नहीं मिली. पुलिस ने उनकी शिनाख्त कर उन्हें छोड़ दिया. हालांकि, करणी सेना के सदस्यों और अटेरना के लोगों को जब उनके छोड़ने का पता लगा तो उन्होंने हंगामा किया और वह थाने में पहुंच गए. थाना प्रभारी ने उन्हें बताया कि मामले की जांच जारी है. सभी लोगों के मोबाइल नंबर और पते पुलिस के पास हैं. पुलिस की समझाइश के बाद करणी सेना के लोग शांत हुए.

सोनीपत के अटेरना गांव में रात को छह लोग घूम रहे थे, जिन्हें ग्रामीणों और करणी सेना के सदस्यों ने शक होने पर रोक लिया और उनसे पूछताछ शुरू कर दी. उन लोगों ने बताया कि वह गांव में एक परिवार के यहां आए हुए हैं. उन्होंने एक व्यक्ति का नाम लिया था. सभी लोगों को संबंधित परिवार के यहां लेकर गए, जहां परिवार के सदस्य उनके नाम नहीं बता पाए. इस पर ग्रामीण उनकी तलाशी लेने लगे तो उनके पास से पाकिस्तान में बनी टोपी मिली थी. इसके चलते कुछ ग्रामीणों ने उन्हें पाकिस्तानी समझ लिया था.

पुलिस ने पूछताछ के बाद उन्हें धार्मिक स्थल नांगल कलां भेज दिया
हंगामा होने पर कुंडली थाने की पुलिस को सूचित किया गया. इसके बाद पुलिस तुरंत मौके पर पहुंच गई. पुलिस सभी छह लोगों को थाने में लेकर गई. वहां पूछताछ की तो उन्होंने अपनी पहचान दिल्ली और पानीपत के निवासियों के रूप में दी. उन्होंने बताया कि वह पहले गोहाना, सोनीपत और झुंड़पुर स्थित धार्मिक स्थल पर गए थे. अब वह नांगल कलां गांव स्थित धार्मिक स्थल में रुके हुए हैं. वह शुक्रवार की देर शाम को अटेरना गांव में धर्म प्रचार के लिए गए हुए थे. पूछताछ के बाद पुलिस ने उन्हें नांगल कलां स्थित धार्मिक स्थल पर भेज दिया था.

पुलिस ने ग्रामीणों से बगैर बातचीत किए ही लोगों को छोड़ दिया: करनी सेना
करणी सेना के प्रदेश संगठन महामंत्री दीपक चौहान ने बताया कि रात को ग्रामीणों ने शक के आधार पर छह लोगों को पकड़ा था. सुबह उन्हें पता लगा कि पुलिस ने उन्हें छोड़ दिया है. इस वजह से उन्होंने हंगामा किया. उनका कहना था कि ग्रामीणों ने ही उन्हें पकड़ा था. ऐसे में उन्हें छोड़ने से पहले ग्रामीणों से बातचीत नहीं की गई. दीपक चौहान का कहना है कि अगर क्षेत्र में कोई वारदात हो जाएगी तो उसकी जिमेदारी कौन लेगा.

किसी के पास से कोई संदिग्ध वस्तु नहीं मिली: पुलिस
कुंडली के थाना प्रभारी रविंद्र कुमार ने बताया कि रात को ग्रामीणों ने छह लोगों को शक के आधार पर पुलिस को सौंपा था. सभी से पूछताछ की तो वह पानीपत और दिल्ली के निवासी निकले. उनके पास से किसी भी प्रकार की कोई संदिग्ध प्रचार सामग्री नहीं मिली है. वह जमात के सदस्य थे और धर्म प्रचार के निकले हैं. वह गोहाना, सोनीपत, झुंडपुर और नांगल कलां स्थित धार्मिक स्थलों पर गए थे. वहां के प्रमुखों से भी बातचीत की गई. सभी के मोबाइल नंबर और पते पुलिस के पास हैं.

 

यहां भी पढ़ें: बदमाशों की फायरिंग से बाल-बाल बचे पुलिसकर्मी, पीछा कर तीन को पकड़ा, दो फरार

फतेहाबाद: पुलिस ने भारी मात्रा में नशीले पदार्थ के साथ 15 व्यक्ति गिरफ्तार

Tags: Haryana news, Karni Sena Protest, सोनीपत

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर