Assembly Banner 2021

Kisan Aandolan: सिंघू बॉर्डर पर तेज रफ्तार कार ने किसान को मारी टक्कर, मौत

सिंघु बॉर्डर पर एक और किसान की मौत.

सिंघु बॉर्डर पर एक और किसान की मौत.

Singhu Border: 21 फरवरी को किसानों के आंदोलन में शामिल होने पंजाब के मोगा से दिल्ली आए थे जीत सिंह. खाना खाकर लौटने के दौरान तेज रफ्तार कार की टक्कर से मौके पर ही हुई मौत.

  • Share this:
सोनीपत. सिंघु बॉर्डर पर किसानों का आंदोलन (Kisan Aandolan) लगातार जारी है. किसान लगातार तीन कानूनों के खिलाफ सिंघू बॉर्डर पर बैठे हुए हैं. वहीं लगातार किसानों की मौत (Farmers Death) के मामले भी सामने आ रहे हैं. बीती देर रात तेज रफ्तार का कहर देखने को मिला. जहां हादसे में सिंघु बॉर्डर पर मौजूद एक किसान की मौत हो गई. हादसे की सूचना के मिलते ही आसपास के किसान और पुलिस मौके पर पहुंची. फिलहाल पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए सोनीपत सिविल अस्पताल में रखवा दिया है और मामले की जांच शुरू कर दी है.

बता दें कि तीन कृषि कानूनों के खिलाफ लगातार किसान दिल्ली की सीमाओं पर डटे हुए हैं. वहीं लगातार दुख समाचार भी सामने आ रहे हैं. किसानों की मौत का सिलसिला रुकने का नाम नहीं ले रहा है. बीती देर रात भी सिंघू बॉर्डर पर एक किसान की मौत हो गई. बताया जा रहा है कि खाना खाने के बाद जब वह वापस जा रहा था तो उसी दौरान एक तेज रफ्तार कार ने उसे टक्कर मार दी, जिससे पंजाब के मोगा के रहने वाले किसान जीत सिंह की मौत हो गई.

तेज रफ्तार कार ने टक्कर मार दी



सूचना के बाद साथी किसान और पुलिस मौके पर पहुंची. वहीं मृतक जगत सिंह के साथियों ने बताया कि वह 21 फरवरी को आंदोलन में आया था और रात को खाना खाने के लिए जा रहा था. उसी दौरान एक तेज रफ्तार कार ने टक्कर मार दी. जिसके बाद उसकी मौत हो गई. वो गरीब परिवार से था और खेती करके अपने घर का गुजारा करता था.
पुलिस ने कही ये बात

जांच अधिकारी सुनील कुमार ने बताया कि बीती देर रात एक तेज रफ्तार कार ने किसान को टक्कर मार दी जिसके बाद उसकी मौत हो गई. किसान 21 फरवरी से सिंधु बॉर्डर आंदोलन में शामिल था. पंजाब के मोगा का रहने वाला है और खेती करने का ही काम करता था. फिलहाल शव को पोस्टमार्टम के लिए शव गृह में रखवा दिया गया है और मामले की जांच शुरू कर दी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज