Home /News /haryana /

Kisan Andolan स्थगित होने पर महिला किसानों ने केक काट मनाया जीत का जश्न, DJ पर किया भांगड़ा

Kisan Andolan स्थगित होने पर महिला किसानों ने केक काट मनाया जीत का जश्न, DJ पर किया भांगड़ा

कुंडली बॉर्डर: कृषि कानूनों के वापस होने और किसानों की मांग मानने से खुश महिला किसानों ने केक काटकर अपनी जीत का जश्न मनाया.

कुंडली बॉर्डर: कृषि कानूनों के वापस होने और किसानों की मांग मानने से खुश महिला किसानों ने केक काटकर अपनी जीत का जश्न मनाया.

Kisan Andolan Repeal: केंद्र सरकार के तीनों कृषि कानून वापस लेने और किसानों की जीत पर महिला किसानों ने आज कुंडली बॉर्डर पर केक काटकर जीत का जश्न मनाया. इसके साथ ही उन्होंने ढोल नगाड़ों पर जमकर डांस किया. संयुक्त किसान मोर्चा द्वारा किसान आंदोलन को स्थगित करने के बाद अब घर लौटने लगे हैं. जश्न मनाने पहुंचीं महिला किसानों ने कहा कि आखिरकार केंद्र सरकार किसानों के सामने झुक गई है और किसानों की सभी मांगों को मान लिया है. इसी के चलते हम यहां पर केक काटकर अपनी जीत की खुशियां मना रहे हैं.

अधिक पढ़ें ...

सोनीपत. तीन कृषि कानूनों की वापसी (Agriculture Law Return) की मांग को लेकर दिल्ली की सीमाओं पर 26 नवंबर 2020 को शुरू हुआ किसान आंदोलन (Kisan Andolan) अब स्थगित कर दिया गया है, जिसके बाद किसान अपनी इस जीत का जश्न अलग अलग तरीके से मना रहे हैं. सोनीपत कुंडली बॉर्डर (Kundli Border) पर चल रहे किसान आंदोलन में हरियाणा की कुछ महिला किसानों ने केक लेकर पहुंची. केक काटकर किसानों की जीत का जश्न मनाया. उन्होंने कहा कि पिछले एक साल के दौरान हरियाणा और पंजाब के किसानों में एकता देखने को मिली है और दोनों का भाईचारा बढ़ा है.

केंद्र सरकार द्वारा पारित तीन कृषि कानूनों के विरोध में पंजाब और हरियाणा के हजारों की संख्या में किसान पिछले साल 26 नवंबर 2020 को दिल्ली में प्रदर्शन करने जा रहे थे, लेकिन दिल्ली पुलिस ने किसानों को हरियाणा की सीमा पर ही रोक दिया. किसान नेताओं ने वहीं पर ऐलान किया कि 3 कृषि कानूनों के विरोध में सरकार के खिलाफ यहीं पर प्रदर्शन और आंदोलन किया जाएगा.

Kisan Andolan, farmers movement, Haryana Farmers, agricultural law return, Delhi Singhu Border, Rakesh Tikait, Gurnam Singh Chaduni, woman farmers, haryana news

कुंडली बॉर्डर: किसानों ने जीत का जश्न ढोल नगाड़ों पर डांस करके मनाया.

19 नवंबर को पीएम मोदी ने कानून वापस लेने का किया था ऐलान 

19 नवंबर 2021 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने का ऐलान कर दिया, लेकिन कुछ मांगों को लेकर किसानों और सरकार में फिर गतिरोध शुरू हुआ तो सरकार एक बार फिर किसानों के सामने झुकी और किसानों की सभी मांगें मान ली गई. इसके बाद गुरुवार को संयुक्त किसान मोर्चा (Sayunt Kisan Morcha) ने किसान आंदोलन को स्थगित करने का ऐलान कर दिया.

आज सोनीपत कुंडली बॉर्डर पर चल रहे किसान आंदोलन में हरियाणा की कुछ महिला किसान इस जीत का जश्न मनाने केक लेकर पहुंची. किसानों के बीच में केक काटकर किसानों की इस जीत के जश्न में शामिल हुई.

Kisan Andolan, farmers movement, Haryana Farmers, agricultural law return, Delhi Singhu Border, Rakesh Tikait, Gurnam Singh Chaduni, woman farmers, haryana news

किसान एकता जिंदाबाद के नारे के साथ केक काटा गया.

महिला किसानों ने कहा- सरकार को झुकना पड़ा 

सोनीपत कुंडली बॉर्डर पर केक लेकर जीत का जश्न मनाने पहुंचे महिला किसानों ने कहा कि आखिरकार केंद्र सरकार किसानों के सामने झुक गई है और किसानों की सभी मांगों को मान लिया है. इसी के चलते हम यहां पर केक काटकर अपनी जीत का जश्न मना रहे हैं. उन्होंने कहा कि पिछले 1 साल में हरियाणा और पंजाब के किसानों का भाईचारा बढ़ा है, उन्होंने कहा कि संयुक्त किसान मोर्चा के ऐलान के बाद हम कल अपने घरों की तरह वापसी करेंगे. उससे पहले हम केक काटकर यहां अपनी जीत का जश्न मना रहे हैं.

Tags: Agricultural law return, Delhi Singhu Border, Farmers movement, Gurnam Singh Chaduni, Haryana Farmers, Kisan Andolan, Rakesh Tikait

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर