Home /News /haryana /

लड़कियों की शादी की उम्र 18 से 21 साल करने पर बनेगा कानून, खाप पंचायतें स्पष्ट करेंगी अपना रुख

लड़कियों की शादी की उम्र 18 से 21 साल करने पर बनेगा कानून, खाप पंचायतें स्पष्ट करेंगी अपना रुख

हरियाणा के हिसार की 'लाडो पंचायत' लंबे समय से लड़कियों की शादी की उम्र बढ़ाने को लेकर अभियान चला रही है. कैबिनेट की मंजूरी के बाद हिसार में कल जश्न मनाया गया.

हरियाणा के हिसार की 'लाडो पंचायत' लंबे समय से लड़कियों की शादी की उम्र बढ़ाने को लेकर अभियान चला रही है. कैबिनेट की मंजूरी के बाद हिसार में कल जश्न मनाया गया.

Haryana: लड़कियों की शादी की उम्र 18 साल से 21 साल करने पर कानून बनाने की घोषणा पर खाप पंचायतें 23 दिसंबर को जींद में महापंचायत करने जा रही हैं. इस एकजुटता के बाद खाप अपना रुख स्पष्ट करेंगी. सरकार के इस कदम पर हरियाणा और उत्तर प्रदेश की खाप पंचायतें 23 दिसंबर को जींद में एकजुट होंगी. वहीं पर सरकार के इस कदम को लेकर अपना रुख स्पष्ट करेगी, इसको लेकर हरियाणा की सबसे बड़ी खाप पंचायतों में से एक दहिया खाप के प्रधान सुरेंद्र दहिया ने बड़ा बयान दिया. उन्होंने कहा कि मैं सभी को एक उचित जानकारी देना चाहता हूं. उन्होंने बताया कि अब लड़कियां अपनी पढ़ाई पूरी करके ही शादी कर रही हैं. 

अधिक पढ़ें ...

सोनीपत. सरकार ने लड़कियों की शादी की उम्र 18 साल से बढ़ाकर अब 21 साल कर दी है. अब लड़कियां 18 नहीं बल्कि 21 साल की होने के बाद ही शादी करेंगी. इस को लेकर केंद्र सरकार (Central Government) ने कानून भी बना दिया हैं. इस कानून के बाद जहां लड़कियों में एक तरफ खुशी की लहर है तो खाप पंचायतें इसको लेकर अपना रुख अभी तक स्पष्ट नहीं कर पाई हैं, जिसको लेकर 23 दिसंबर को हरियाणा और उत्तर प्रदेश की सभी खाप पंचायतें जींद में एक महापंचायत करने जा रही हैं.

ये जानकारी दहिया खाप के प्रधान सुरेंद्र सिंह दहिया ने दी. उन्होंने कहा कि सरकार हिंदू मैरिज एक्ट (Hindu Marriage act) में भी संशोधन करे, ताकि कोई भी लड़का- लड़की मां बाप की मर्जी के बिना प्रेम विवाह न कर सके. जिस तरह से आज के युग में लड़कियां- लड़कों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर समाज को आगे बढ़ा रही हैं. लड़कियों को और सशक्त करने के लिए केंद्र सरकार ने लड़कियों की शादी की उम्र 18 साल से बढ़ाकर 21 साल कर दी है. अब कानून के हिसाब से लड़कियों की शादी 21 साल से पहले नहीं की जाएगी. न ही वह कोर्ट में शादी कर पाएंगी.

जींद में 23 दिसंबर को होगी महापंचायत
सरकार के इस कदम पर हरियाणा और उत्तर प्रदेश की खाप पंचायतें 23 दिसंबर को जींद में एकजुट होंगी. वहीं पर सरकार के इस कदम को लेकर अपना रुख स्पष्ट करेगी. इसको लेकर हरियाणा की सबसे बड़ी खाप पंचायतों में से एक दहिया खाप के प्रधान सुरेंद्र दहिया ने बड़ा बयान दिया. उन्होंने कहा कि मैं सभी को एक उचित जानकारी देना चाहता हूं. उन्होंने बताया कि अब लड़कियां अपनी पढ़ाई पूरी करके ही शादी कर रही हैं.

सरकार को हिंदू मैरिज एक्ट में भी बदलाव करना चाहिए
वहीं उन्होंने कहा कि सरकार के इस कदम को लेकर जिनमें एक महापंचायत आयोजित हो रही है. इसके बाद ही खाप पंचायतें कोई अधिकारिक बयान देंगी और अपना रुख स्पष्ट करेगी. उन्होंने कहा कि सरकार को हिंदू मैरिज एक्ट में भी संशोधन करना चाहिए, ताकि कोई भी लड़का या लड़की मां-बाप की मर्जी के कोर्ट में शादी ना कर पाए. गांव गोत्र और देहात में शादी ना हो और इन्हीं की वजह से घरों में घरेलू कलह बढ़ रहे हैं. समाज का ताना-बाना खत्म हो रहा है. उन्होंने कहा कि खाप पंचायतें तो लड़कियों की शादी की उम्र 18 से 16 साल करने का भी समर्थन कर चुकी है.

सरकार के इस कदम से लड़कियों में खुशी की लहर
सरकार के इस कदम के बाद देश की लड़कियों में खुशी की लहर है. लड़कियों ने कहा कि सरकार के इस कदम से लड़कियों को हौसला मिला है, क्योंकि पहले कम उम्र में लड़कियों की शादी हो जाती थी. वह अपनी पढ़ाई पूरी नहीं कर पाती थी और अनुभव कम होने के चलते कई बार घर भी उजड़ जाते थे, लेकिन अब सरकार के इस कदम के बाद लड़कियां ज्यादा अनुभवी होंगी, ज्यादा पढ़ी लिखी होंगी और अपने पैरों पर खड़ा होकर वह शादी कर सकेंगी.

Tags: Haryana news, Khap Panchayat

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर